[ad_1]

नई दिल्ली:

Jaya Prada Profession Story: पुराने जमाने में कई ऐसी एक्ट्रेसेस रही हैं जिन्होंने लोगों के दिलों पर राज किया है. इनमें एक्ट्रेस जया प्रदा भी शामिल हैं जिन्हें उस जमाने की हुस्न की मलिका कहा जाता था. अपनी खूबसूरती, शानदार एक्टिंग, एक्सप्रेशन के लिए जया प्रदा टॉप एक्ट्रेसेस में शामिल थीं. उन्होंने 70-80 के दशक की की फिल्मों में बेहतरीन काम किया है. जया प्रदा 3 अप्रैल को अपना 62वां जन्मदिन मनाएंगी. वो एक एक्ट्रेस के अलावा पूर्व सांसद भी रही हैं.  साउथ से बॉलीवुड आईं जया प्रदा ने हिंदी सिनेमा में भी शानदार काम किया था. हालांकि, अपने करियर के पीक पर आकर उन्होंने इंडस्ट्री छोड़ दी और पॉलिटिक्स में शामिल हो गईं. उनके जन्मदिन के विशेष अवसर पर हम आपको एक्ट्रेस की लाइफ से जुड़े दिलचस्प किस्से बता रहे हैं. 

कड़ी मेहनत से सीखी हिंदी 
जया प्रदा साउथ एक्ट्रेस थीं.  उनका जन्म आंध्र प्रद्रेश में हुआ था. जया प्रदा का असली नाम ललिता रानी राव था. हालांकि, फिल्मों में आने उन्होंने अपना नाम बदल लिया था. उनके पिता कृष्ण राव एक फिल्म प्रोड्यूसर थे. साउथ इंडस्ट्री में जया प्रदा ने कई फिल्में की थीं. फिर उन्होंने बॉलीवुड का रुख किया और यहीं बस गईं.  उनकी पहली हिंदी ‘सरगम’ थी जिसके लिए उन्हें हिंदी सीखनी पड़ी थी. करियर की शुरुआत में उन्हें हिंदी बोलनी नहीं आती थी क्योंकि वो एक तेलुगू भाषी परिवार से थीं. जया प्रदा ने बताया कि वो सुबह चार बजे उठकर हिंदी क्लासेज लेती थीं और डायलॉग याद करती थीं. 

अमिताभ बच्चन संग जमी जोड़ी
जया बच्चन ने बॉलीवुड में कई बड़े स्टार्स के साथ काम किया था. हालांकि, अमिताभ बच्चन और जितेंद्र के साथ उनकी जोड़ी काफी पसंद की गई थी. अमिताभ बच्चन के साथ ‘शराबी’, ‘आज का अर्जुन’ और ‘गंगा जमुना सरस्वती’ में साथ काम किया था. इन फिल्मों में उनकी जोड़ी सुपरहिट रही थीं. वहीं जीतेंद्र के साथ तोहफा, स्वर्ग से सुंदर, औलाद, सौतन की बेटी और संजोग में हिट रही थी. 

करियर के पीक पर छोड़ी इंडस्ट्री
जया प्रदा ने तेलुगु समेत 5 अलग-अलग भाषाओं में 150 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया है. साल 1985 में जया प्रदा टॉप पर थीं और वो बॉलीवुड में सबसे ज्यादा फीस चार्ज करने वाली एक्ट्रेस मानी जाती थी. इसकी वजह से वो इनकम टैक्स विभाग की निशाने पर आ गईं और उनकी जिंदगी में काफी उथल-पुथल मच गई थी.  मुश्किल वक्त में एक्ट्रेस को फिल्म प्रोड्यूसर श्रीकांत नहाटा का सपोर्ट मिला और उन्होंने उनसे शादी रचा ली. शादी के बाद जया प्रदा ने बॉलीवुड छोड़ दिया. 

विवादों में रही पर्सनल लाइफ 
जया प्रदा एक्टिंग के साथ-साथ अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर भी चर्चा में रही हैं. उन्होंने श्रीकांत नहाटा से शादी रचाई जो तीन बच्चों के पिता थे. 1986 में श्रीकांत ने अपनी पहली पत्नी को तलाक दिए बिना ही जया प्रदा से दूसरी शादी कर ली थी. ऐसे में उन्हें ‘दूसरी महिला’ के रूप में खूब बदनामी मिली थी. साथ ही शादी के बाद वो मां नहीं बन पाईं तो उन्होंने अपनी बहन के बेटे सिद्धार्थ को गोद ले लिया था. 

ऐसा रहा पॉलिटिकल करियर
बॉलीवुड छोड़ जया प्रदा ने राजनीति में कदम रखा और यहां जनता की सेवा की. उन्होंने साल 1994 में ‘तेलुगू देशम पार्टी’ को ज्वाइन किया था.  साल 1996 में वो राज्यसभा सांसद बनी थीं. फिर वो 2004 में समाजवादी पार्टी में शामिल हो गईं. यहां एक्ट्रेस राजनेता के रूप में 2004 से 2014 तक रामपुर की सांसद रहीं और फिर उन्होंने बीजेपी ज्वाइन कर ली. साल 2019 में जया ने बीजेपी की टिकट से रामपुर की सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा लेकिन वो हार गई थीं. 

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *