Loading

सीमा कुमारी

नवभारत डिजिटल टीम: सनातन धर्म में ‘मकर संक्रांति’ (Makar Sankranti 2024) का विशेष महत्व है। इस वर्ष यह त्यौहार 15 जनवरी 2024 को पड़ रहा है। इस दिन भगवान सूर्यदेव की पूजा के साथ-साथ दान का विधान है।

‘मकर संक्रांति’ (Makar Sankranti) के दिन पवित्र नदियों में स्नान के बाद दान करना बहुत ही फलदायी माना गया है। कहा जाता है इस दिन किया गया दान सौ गुना बढ़कर वापस मिलता है। साथ ही पुण्य की प्राप्ति होती है। ये त्योहार तिल, गुड़ और खिचड़ी के बिना अधूरा माना जाता है, लेकिन क्या आप जानते हैं मकर संक्रांति पर तिल-गुड़, खिचड़ी का दान और उसके सेवन का महत्व क्या है। आइए जानें इससे जुड़ी वजह और महत्व-

मकर संक्रांति के दिन खिचड़ी का दान करना बेहद ही महत्वपूर्ण माना जाता है और इसके अलावा इस दिन खिचड़ी खाने का भी विशेष महत्व होता है। इस दिन उड़द की काली दाल और चावल की खिचड़ी खाई जाती है और इसे स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है। इसके अलावा, इस दिन तिल और गुड़ के लड्डू बनाए जाते है।

ज्योतिषियों के अनुसार, मकर संक्रांति पर खिचड़ी के उपयोग से नवग्रह की कृपा प्राप्त होती है साथ ही आरोग्य का वरदान मिलता है। शास्त्रों में बताया है कि, खिचड़ी में मिलाए जाने वाले पदार्थ नवग्रहों से जुड़े होते है।  

चावल

खिचड़ी में चावल महत्वपूर्ण है जो चंद्रमा और शुक्र ग्रह की शुभता पाने के लिए लाभदायक है।

घी

खिचड़ी घी के बिना अधूरी मानी जाती है। घी से सूर्य का संबंध है। इससे सूर्य की कृपा प्राप्त होती है।

यह भी पढ़ें

हल्दी

हल्दी बृहस्पति का प्रतिनिधित्व करती है।

काली दाल

खिचड़ी में डाली जाने वाली काली दाल यानी उड़द के सेवन से शनि, राहु-केतु के अशुभ प्रभाव कम होते  है।

मूंग दाल

कई लोग मकर संक्रांति पर मूंग दाल, हरि सब्जियों और चावल के मिश्रण से खिचड़ी बनाते है। मूंग दाल और हरि सब्जियां बुध से संबंधित है।

गुड़

खिचड़ी के साथ खाए जाने वाला गुड़ मंगल और सूर्य का प्रतीक माना जाता है। ज्योतिषियों का मानना है कि, मकर संक्रांति पर विशेषकर काली तिल और गुड़ या उससे बनी चीजों का दान शनि देव और सूर्य देव का आर्शीवाद दिलाता है। काली तिल का संबंध शनि से है और गुड़ सूर्य का प्रतीक   है। मकर संक्रांति पर सूर्य देव अपने पुत्र शनि की राशि मकर में प्रवेश करते हैं, इसलिए इस दिन गुड़ का सेवन और दान करने से मान सम्मान में वृद्धि होती है, सूर्य की कृपा से करियर में लाभ मिलता है।  

गुड़ और तिल की तासीर गर्म होती है। दोनों ही चीजें सर्दी के प्रभाव से बचाने में फायदेमंद मानी जाती है। इसे खाने से शरीर को गर्माहट मिलती है।





Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *