Fridge Suggestions : रेफ्रिजरेटर घर और किचन के लिए एक जरूरी गैजेट हो गया है, बिना इसके पके हुए खाने और कच्चे फल-सब्जी को सुरक्षित रखना मुश्किल का काम है, लेकिन बहुत ही कम लोगों को रेफ्रिजरेटर को घर में ठीक से रखने की जानकारी होती है. इसी वजह से हम किचन में रेफ्रिजरेटर रखने के टिप्स लेकर आए हैं.

रेफ्रिजरेटर हमेशा अंदर से ठंडा होता है, कई बार लोग इसमें जरूरत से ज्यादा गर्म चीज का रख देते हैं, जिससे इसके खराब होने की संभावना बढ़ जाती है. वहीं किचन का टेम्परेचर भी ज्यादा होता है, जिसके चलते रेफ्रिजरेटर में खराबी आ सकती है.

फ्रिज को किस डायरेक्शन में रखने से बढ़ती है इसकी लाइफ? 

अगर आप फ्रिज को सही डायरेक्शन में रखते हैं तो यकीन मानिए इसे फ्रिज की लाइफ बढ़ जाती है और लंबे समय तक इसमें किसी तरह की बड़ी खराबी नहीं आती है. वैसे तो फ्रिज के लिए कई ऐसे डायरेक्शन है जहां पर रखने से उसकी लाइफ बढ़ती है लेकिन हम आपके लिए कुछ चुनिंदा डायरेक्शन लेकर आए हैं जिनके बारे में आपको जानकारी होनी ही चाहिए.

कौन सा डायरेक्शन है सही? 

 अगर आप फ्रिज को रखने के लिए सही जगह ढूंढ रहे हैं जहां पर रखने पर यह सालों साल बेहतरीन तरीके से काम करता रहे, तो आप इसे बालकनी वाले रूम में रख सकते हैं. दरअसल इस रूम में काफी ज्यादा वेंटिलेशन होता है और आपके फ्रिज से जो हीट निकलती है वह आसानी से बाहर चली जाती है और आपके घर में नहीं रुकती है. अगर आप अपने फ्रिज को लंबे समय तक अच्छी कंडीशन में रखना चाहते हैं तो वेंटिलेशन बेहद ही जरूरी है और इसके लिए बालकनी वाला कमरा एक अच्छी जगह साबित हो सकता है.

विंडो वाले रूम में: अगर आपने अभी तक अपने रेफ्रिजरेटर को ऐसे कमरे में रखा हुआ है जहां पर कोई विंडो नहीं है तो आपको इसे तुरंत ही बदल देना चाहिए. दरअसल विंडो वाला रूम आपके फ्रिज को एक अच्छा वेंटिलेशन प्रदान करता है जिससे फ्री जिससे निकलने वाली गर्मी बड़ी ही आसानी से कमरे के बाहर निकल जाती है. अगर आपने अपने फ्रिज को ऐसे कमरे में रखा हुआ है जहां पर विंडो नहीं है और वेंटिलेशन नहीं है तो यह आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है क्योंकि यह सेहत को बुरी तरह से नुकसान पहुंचता है साथ ही फ्रिज को भी खराब करता है.

यह भी पढ़ें : 

पावर बैंक जैसी है इस स्मार्टफोन की बैटरी, 1800 घंटे का मिलेगा बैकअप, साथ में 200MP का कैमरा



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *