PTI Picture

 नई दिल्ली: महिला प्रीमियर लीग के रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को पहली जीत मिली है। आरसीबी ने यूपी वॉरियर्स को पांच विकेट से हराकर अपने जीत का सूखा खत्म किया। महिला प्रीमियर लग का 13वें मुकाबला आरसीबी और यूपी वारियर्स के बीच खेला गया। मुंबई के डीवाई पाटिल स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में आरसीबी ने पांच विकेट से मैच अपने नाम किया। कप्तान स्मृति मंधाना ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। यूपी वॉरियर्स की टीम 19.3 ओवर में 135 रन पर सिमट गई। वहीं, आरसीबी ने 18 ओवर में पांच विकेट खोकर जीत दर्ज की। 

मैन ऑफ द मैच कणिका ने 30 गेंद में आठ चौके और एक छक्का की मदद से 46 रन बनाने के अलावा हिथर नाइट (24) के साथ चौथे विकेट के लिए 46 और रिचा घोष के साथ पांचवें विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी कर टीम की जीत सुनिश्चित की। रिचा 32 गेंद में तीन चौके और एक छक्का की मदद से 31 रन बनाकर नाबाद रही। 

यूपी वॉरियर्स के लिए दीप्ति शर्मा ने दो विकेट चटकाए जबकि ग्रेस हैरिस, सोफी एकलस्टन और देविका वैद्य को एक-एक सफलता मिली। हैरिस (46) और दीप्ति (22) ने बल्ले से भी योगदान देते हुए छठे विकेट के लिए 69 रन की साझेदारी कर वॉरियर्स को प्रतिस्पर्धी स्कोर तक पहुंचाया। टीम नौवें ओवर में 31 रन बनाकर संघर्ष कर रही थी लेकिन हैरिस ने 32 गेंद की पारी में पांच चौके और दो छक्के जड़े जबकि दीप्ति ने 19 गेंद की पारी में चार चौके लगाये। इन दोनों के अलावा किरण नवगिरे (22) और  एकलस्टन (12) ही दहाई के अंक में पहुंची। 

आरसीबी के लिए एलिस पेरी ने चार ओवर में 16 रन देकर तीन सफलता हासिल की तो वही सोफी डिवाइन और सोभना आशा ने दो-दो विकेट लिये। मेगन शूट और श्रेयंका पाटिल को एक-एक सफलता मिली। लक्ष्य का पीछा करते हुए डिवाइन ने हैरिस के खिलाफ दो चौके और छक्का जड़कर आक्रामक रवैया दिखाया लेकिन इन गेंदबाज ने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर उन्हें पवेलियन की राह दिखा दी। अगले ओवर में दीप्ति ने कप्तान स्मृति मंधाना को खाता खोले बगैर बोल्ड कर दिया।

इन विकेटों का हालांकि नाइट पर कोई असर नहीं हुआ उन्होंने दीप्ति के खिलाफ चौका लगाने के बाद राजेश्वर का स्वागत दो चौके से किया। पावरप्ले की आखिरी ओवर में भी उन्होंने चौका जड़कर स्कोर को दो विकेट पर 43 रन कर दिया। अगले ओवर में देविका ने पेरी (10)  को एकलेस्टन के हाथों कैच कराया। दीप्ति ने नौवें ओवर में नाइट को आउट कर यूपी वॉरियर्स को बड़ी सफलता दिलाई लेकिन दूसरे छोर से कणिका आहूजा ने मोर्चा संभाल लिया था। 

उन्होंने 10वें, 11वें  और 12वें ओवर में एकलेस्टन, हैरिस और राजेश्वरी के खिलाफ कुछ छह चौके जड़ने के बाद 12वें ओवर में देविका के खिलाफ छक्का लगाकर अपने आक्रामक तेवर दिखाये। इसी ओवर में रिचा ने भी चौका लगाकर टीम के स्कोर को चार विकेट पर 101 रन कर दिया।

दोनों इसके बाद संभल कर टीम को लक्ष्य की ओर ले जा रहे थे लेकिन एकलस्टन ने अपने अनुभव का इस्तेमाल कर कणिका को बोल्ड कर आरसीबी की धड़कने बढ़ा दी। अगले ओवर में रिचा ने दीप्ति के खिलाफ लगातार गेंदों पर छक्का और चौका लगाकर टीम की जीत सुनिश्चित कर दी।

इससे पहले आरसीबी की कप्तान स्मृति मंधाना ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया डिवाइन ने पहले ओवर में ही देविका  (शून्य) और कप्तान अलीशा हीली (एक) को चलता कर टीम को शानदार शुरुआत दिलायी। अगले ओवर में शूट ने तहलिया मैकग्रा (दो रन) को चकमा दिया और विकेटकीपर रिचा ने आसान कैच पकड़ा। पांच रन पर तीन विकेट गंवाने के बाद किरण ने डिवाइन की गेंद पर चौका जड़ दबाव कम करने की कोशिश की। उन्होंने पावर प्ले के आखिरी ओवर में रेणुका सिंह की गेंद पर कवर के ऊपर से शानदार छक्का जड़ा जिससे पावर प्ले के बाद टीम का स्कोर तीन विकेट पर 29 रन हो गया। 

यह भी पढ़ें

किरण ने इसके बाद लेग स्पिनर सोभना आशा के खिलाफ भी आक्रामक शॉट खेले लेकिन गेंद हवा में लहराकर रिचा के हाथों में चली गयी। उन्होंने 26 गेंद में दो चौके और एक छक्के की मदद से 22 रन बनाये। रन गति को तेज करने के लिए बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजी गयी सिमरन शेख (दो) आशा का दूसरा शिकार बनी जिससे यूपी वॉरियर्स की आधी टीम 8.1 ओवर में 31 रन पर पवेलियन लौट गयी। दीप्ति शर्मा ने इसी ओवर में जीवन दान मिला और इसका फायदा उन्होंने ने चौका लगाकर खाता खोलकर उठाया। 11वें ओवर में आशा की गेंद  पर रिचा ने ग्रेस हैरिस को स्टंप करने का आसान मौका गंवा दिया और यहां से यूपी वॉरियर्स ने तेजी से रन बनाना शुरू किया।

हैरिस ने अगले दो ओवर में श्रेयंका पाटिल और आशा के खिलाफ लगातार छक्का और चौका जड़ा । इन दो ओवरों में 31 रन खाने के बाद कप्तान मंधाना ने गेंद एक बार फिर से डिवाइन को थमाई लेकिन दीप्ति ने इस ओवर में लगातार दो चौके जड़कर अपने इरादे जाहिर किये। 

हैरिस ने 15वें ओवर में रेणुका के खिलाफ दो चौके लगाकर टीम के रनों का सैकड़ा पूरा किया लेकिन एलिस पेरी के अगले ओवर दीप्ति और हैरिस दोनों के विकेट चटकाकर यूपी वॉरियर्स को बड़ा स्कोर खड़ा करने से रोक दिया। उनकी पहली गेंद पर छक्का मारने की कोशिश में दीप्ति श्रेयंका को कैच थमा बैठी तो वहीं हैरिस का कैच रिचा ने लपका। एकलस्टन ने इसके बाद निचले क्रम के बल्लेबाजों के साथ टीम के स्कोर को 135 रन तक पहुंचाया वह आखिरी ओवर में राजेश्वरी गायकवाड़ के साथ गफलत का शिकार होकर रन आउट हुई। (भाषा इनपुट के साथ )





Supply hyperlink

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *