[ad_1]

वीरेंद्र सिंह ने रैली में कहा कि 42 साल निष्‍ठा से कांग्रेस में काम किया। उन्होंने राजीव गांधी और सोनिया गांधी की प्रशंसा करते हुए कहा कि जितना विश्‍वास उनका हमें मिला आज तक हरियाणा में किसी को नहीं मिला। इससे संकेत मिल गया कि उनके दिल में क्‍या चल रहा है।

हरियाणा के दिग्गज नेता चौधरी वीरेंद्र सिंह ने BJP को दिया अल्‍टीमेटम
हरियाणा के दिग्गज नेता चौधरी वीरेंद्र सिंह ने BJP को दिया अल्‍टीमेटम
user

हरियाणा में बीजेपी के दिग्‍गज नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी वीरेंद्र सिंह ने बीजेपी को अल्‍टीमेटम दे दिया है। वीरेंद्र सिंह ने कहा है कि यदि जन नायक जनता पार्टी से गठबंधन चलेगा तो वीरेंद्र सिंह बीजेपी में नहीं रहेगा। उन्होंने जेजेपी को महा भ्रष्‍ट करार देते हुए उसे 10 प्रतिशत कमीशन वाली पार्टी बताया और कहा कि जेजेपी ने जितना बड़ा धोखा दिया है उतना बड़ा धोखा तो राजनीति में किसी ने नहीं दिया। राजीव गांधी और सोनिया गांधी की प्रशंसा करते हुए वीरेंद्र सिंह ने बिना नाम लिए बीजेपी पर भी जमकर हमले किए। किसानों को 2000 रुपये देने पर कहा कि हमें सरकार से कोई खैरात नहीं चाहिए। यदि कुछ देना है तो फसलों की एमएसपी देकर सरकार किसानों को उनका हक दे दे।

बांगर की धरती जींद में 2 अक्‍टूबर को होने वाली चौधरी वीरेंद्र सिंह की ‘मेरी आवाज सुनो’ रैली की लंबे समय से प्रतीक्षा की जा रही थी। बीजेपी में काफी समय से हाशिये पर चल रहे वीरेंद्र सिंह के नजदीकी लोग लगातार यह बात कह रहे थे कि 2 अक्‍टूबर को वह कोई बड़ा फैसला लेंगे। वीरेंद्र सिंह के आईएएस अधिकारी रहे पुत्र और हिसार से बीजेपी सांसद बृजेंद्र सिंह भी इस रैली के लिए काफी मेहनत कर रहे थे। बड़े किसान नेता रहे सर छोटू राम की विरासत संभाल रहे वीरेंद्र सिंह को आज सुनने आई भीड़ भी किसी फैसले को सुनने के लिए बेताब थी।

आज की रैली में वीरेंद्र सिंह बोले भी जमकर। बीजेपी को अल्‍टीमेटम देने से पहले मौजूद भीड़ से भी मुहर लगवाई गई कि वीरेंद्र सिंह के किसी भी फैसले पर वह उनका साथ देंगे, जिसका वहां मौजूद लोगों ने समर्थन किया। लिहाजा, माहौल बन चुका था। फिर वीरेंद्र सिंह ने बोलना शुरू किया। उन्‍होंने बीजेपी को साफ-साफ कह दिया कि यदि जेजेपी के साथ उनका समझौता चलेगा तो वीरेंद्र सिंह उनके साथ नहीं रहेगा। उन्‍होंने कहा कि बीजेपी को गलतफहमी हो गई है कि जेजेपी उन्‍हें वोट दिला देगी। इन्‍हें अपनी वोट तो मिलनी नहीं हैं यह बीजेपी को वोट क्‍या दिला देंगे। जेजेपी को महाभ्रष्‍ट करार देते हुए वीरेंद्र सिंह ने कहा कि जेजेपी ने जितना बड़ा धोखा दिया है इतना बड़ा धोखा तो राजनीति में किसी ने नहीं दिया है।

जेजेपी के भ्रष्‍टाचार की कहानी सुनाते हुए वीरेंद्र सिंह ने कहा कि एक व्‍यक्ति ने उन्‍हें बताया कि सीधे चले जाओ तो 8 प्रतिशत कमीशन और यदि किसी के जरिये जाओ तो 10 प्रतिशत कमीशन देना पड़ता है। उन्‍होंने कहा कि यदि बीजेपी हरियाणा में सही रूप में चुनाव लड़ना चाहती है तो इन्‍हें बाहर का रास्‍ता दिखाओ। बीजेपी पर भी प्रत्‍यक्ष-अप्रत्‍यक्ष तौर पर वीरेंद्र सिंह ने जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि मैं बीजेपी को बताना चाहता हूं कि वीरेंद्र सिंह, राव इंद्रजीत (केंद्रीय मंत्री), रमेश कौशिक( सोनीपत से बीजेपी सांसद), चौधरी धर्मवीर ( भिवानी से बीजेपी सांसद) और कृष्‍ण पवार (बीजेपी से राज्‍यसभा सदस्‍य) जैसे बाहर से बीजेपी में आए लोगों की कतार में नहीं है। यदि बीजेपी ने हमें कुछ दिया है तो हमारा भी बीजेपी को सत्‍ता में लाने में योगदान है।

इससे पहले अपने भाषण की शुरुआत करते हुए वीरेंद्र सिंह ने कहा कि हमने पहले कह दिया था कि इस रैली में किसी पार्टी का झंडा नहीं चलेगा। सिर्फ तिरंगे के साथ ही सभी लोग इसमें शामिल होंगे। हमने यह भी कह दिया था कि हम यहां किसी की जय-जयकार नहीं करेंगे। लेकिन किसानों के मसले पर जब वीरेंद्र सिंह ने हमले शुरू किए तो यह साफ हो गया कि उनके निशाने पर बीजेपी है। उन्‍होंने मांग की कि देश की धन-दौलत में किसानों का हिस्‍सा तय कर दो। यदि ऐसा नहीं हुआ तो देश की आर्थिक तरक्‍की के कोई मायने नहीं हैं। आजादी के वक्‍त देश में गरीबी, भुखमरी और किसानों का शोषण होता था। आज भी चीजें आर्थिक नीतियों में खोट के चलते ठीक नहीं हो रही हैं। उन्‍होंने कहा कि फसलों की कीमत बढ़ाने की मांग पर कहा जाता है कि देश में महंगाई बढ़ जाएगी। हमें 2000 रुपये की खैरात नहीं चाहिए। हमें तो एमएसपी देकर हमारी फसलों के दाम बढ़ा दो।

यह बिना नाम लिए केंद्र की सरकार पर वीरेंद्र सिंह का बड़ा हमला था। इसके बाद वीरेंद्र सिंह जो बोले उससे उनके दिल में क्‍या चल रहा है, इसका संकेत मिला। उन्‍होंने कहा कि 42 साल निष्‍ठा से कांग्रेस में काम किया। राजीव गांधी और सोनिया गांधी की प्रशंसा करते हुए कहा कि जितना विश्‍वास उनका हमें मिला आज तक हरियाणा में किसी को नहीं मिला। वीरेंद्र सिंह ने कहा कि जब मैं मोदी जी से मिलने गया था तो कह दिया था कि राजीव गांधी और सोनिया गांधी के खिलाफ मैं कुछ नहीं कहूंगा। उन्‍होंने कहा कि किसान आंदोलन के वक्‍त बीजेपी का मैं अकेला आदमी था, जो उनके साथ खड़ा था। पहलवान बेटियों के साथ भी खड़ा हुआ। किसानों और बेटियों के साथ खड़ा होने पर किसी में हिम्‍मत नहीं थी कि उन पर सवाल उठाए।

वीरेंद्र सिंह से पहले बोलने आए पंजाब के बड़े नेता जगमीत बराड़ ने कहा कि वीरेंद्र सिंह और पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा अगर मिल जाएं तो हरियाणा फतह हो जाएगा। जाहिर है कि मंच सज चुका है और हरियाणा की सियासत में आज हुए बड़े घटनाक्रम के बाद अगले फैसले का इंतजार है। 


;

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *