बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने अजीत पवार को पत्र लिखकर नवाब मलिक के शिवसेना-बीजेपी-एनसीपी के सत्तारूढ़ गठबंधन में प्रवेश का विरोध किया है। फडणवीस ने कहा कि मलिक पर जिस तरह के आरोप हैं, उसे देखते हुए उन्हें महायुति गठबंधन में शामिल करना “उचित नहीं होगा।

BJP ने नवाब मलिक के अजित पवार की NCP में शामिल होने का किया विरोध
user

महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री नवाब मलिक के अजीत पवार के नेतृत्व वाले एनसीपी के गुट में शामिल होने पर राज्य में सत्तारूढ़ शिवसेना-बीजेपी-एनसीपी के महायुति गठबंधन में बवाल खड़ा हो गया है। बीजेपी नेता और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने अजीत पवार को पत्र लिखकर मलिक को महायुति गठबंधन में शामिल कराने का विरोध किया है।

बीजेपी नेता और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने अपने समकक्ष अजीत पवार को एक पत्र लिखकर मलिक के शिवसेना-बीजेपी-एनसीपी (एपी) के सत्तारूढ़ महायुति गठबंधन में प्रवेश पर आपत्ति व्यक्त की है। फडणवीस ने कहा कि मलिक जिस तरह के आरोपों का सामना कर रहे हैं, उसे देखते हुए उन्हें महायुति गठबंधन में शामिल करना “उचित नहीं होगा।”

फडणवीस ने आगे कहा कि एक विधायक के तौर पर विधानमंडल में आना नवाब मलिक का अधिकार है और उन्होंने गुरुवार को कार्यवाही में हिस्सा भी लिया। इस मुद्दे पर अपनी आपत्तियों पर फडणवीस ने शुरुआत में ही स्पष्ट कर दिया कि उनके मन में मलिक के खिलाफ कोई व्यक्तिगत दुश्मनी या द्वेष नहीं है। लेकिन उनके ऊपर जिस तरह के आरोप लगे हैं, उन्हें देखते हुए उन्हें गठबंधन में शामिल करना सही नहीं होगा।

कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 18 महीने तक जेल में रहे महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री नवाब मलिक आज उप मुख्यमंत्री अजित पवार के नेतृत्व वाले एनसीपी गुट में शामिल हो गए। गुरुवार सुबह नवाब मलिक महाराष्ट्र विधानमंडल के शीतकालीन सत्र के लिए नागपुर गए और विधान भवन परिसर में अजीत पवार समूह के नेताओं से मिले। विधानसभा सत्र शुरू होने के तुरंत बाद नवाब मलिक को सदन में सत्ता पक्ष की पिछली पंक्ति में बैठे देखा गया, जिससे पुष्टि हुई कि वह अजित पवार के गुट में शामिल हो गए हैं। इसे एनसीपी पर दावे की लड़ाई में व्यस्त शरद पवार के लिए एक और बड़ा झटका माना जा रहा है, क्योंकि नवाब मलिक उनके बेहद करीबी नेताओं में से एक थे।

इसे भी पढ़ेंः महाराष्ट्र में शरद पवार को बड़ा झटका, पूर्व मंत्री नवाब मलिक भी अजीत पवार के NCP गुट में शामिल हुए


;



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *