डीके शिवकुमार ने कहा कि हम विचारधारा और नैतिकता पर राजनीति करते हैं। बेलगावी और अन्य क्षेत्र के नेताओं की राय है कि शेट्टार का बाहर जाना पार्टी के लिए अच्छा है। दीर्घकालिक हितों को ध्यान में रखते हुए शेट्टर को मौका दिया गया था।

डीके शिवकुमार बोले- कांग्रेस महासागर की तरह, किसी के जाने से कोई असर नहीं पड़ेगा
user

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस एक महासागर की तरह है। चाहे कोई भी बाहर जाए, पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि बीजेपी हर किसी को खींचने की कोशिश कर रही है और किसी को नहीं बख्श रही है। हम भी इससे परिचित हैं। अगर हमें भी ऐसा करना होता तो कई लोगों को पार्टी में खींच लिया गया होता।

उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार ने बेंगलुरु में कांग्रेस कार्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, ”पूर्व मुख्यमंत्री जगदीश शेट्टार कांग्रेस के टिकट पर 35,000 वोटों से विधानसभा चुनाव हार गए थे। फिर भी हमने उन्हें एमएलसी मनोनीत किया था। जुगदीश शेट्टार बीजेपी पर आरोप लगाने के बाद कांग्रेस में शामिल हुए थे क्योंकि वह वहां की आंतरिक लड़ाई से चिंतित थे। बता दें कि 2023 विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल हुए जगदीश शेट्टार गुरुवार को फिर से बीजेपी में शामिल हो गए।

डीके शिवकुमार ने कहा, ”हम विचारधारा और नैतिकता पर राजनीति करते हैं। बेलगावी और अन्य क्षेत्रों के नेताओं ने राय दी है कि शेट्टार का बाहर जाना पार्टी के लिए अच्छा है। दीर्घकालिक हितों को ध्यान में रखते हुए शेट्टर को मौका दिया गया। उन्हें बीजेपी के खिलाफ अपने बयानों के लिए जवाब देना चाहिए। हमें उनके बारे में बोलने की जरूरत नहीं है। उनके जाने से खाली हुआ पद कांग्रेस के किसी वफादार को दिया जाएगा।”

उन्होंने कहा कि भारतीय संविधान को कायम रखना कांग्रेस पार्टी का प्राथमिक उद्देश्य है। यह एक राष्ट्रीय ग्रंथ है। भारत का इतिहास कांग्रेस पार्टी के इतिहास पर आधारित है। कांग्रेस सत्ता में आई तो सभी वर्ग के लोगों को सत्ता मिलेगी। पार्टी सभी को साथ लेकर चलेगी। उन्होंने कहा, ”हम चुनाव के करीब पहुंच रहे हैं। मीडिया में इस पर बहस जारी है। इंडिया गठबंधन एकजुट होकर चुनाव का सामना करेगा।”

शिवकुमार ने पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्हें पार्टी ने मुख्यमंत्री बनाया और अब वह बीजेपी के प्रवक्ता बन गए हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे से सलाह ली है कि भविष्य में विचारधारा वाले लोगों का पार्टी में स्वागत किया जाना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि हमारी पार्टी ने 136 सीटें जीती हैं। हम अपनी गलतियों के कारण 7 से 8 सीटें हार गए। अब भी कई लोग पार्टी में शामिल होने की उम्मीद कर रहे हैं।


;



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *