इन दिनों नोनी जूस को हेल्थ सप्लीमेंट के रूप में खूब प्रयोग किया जा रहा है। यहां बता दूं कि नोनी फल को नोनी साग न समझें, ये दोनों अलग हैं। फ़ूड जर्नल के अनुसार, नोनी जूस अब 80 से अधिक देशों में प्रयोग किया जाता है। एशियाई देशों, अमेरिका, यूरोपीय संघ के अलावा, चीन में भी इसे संपूर्ण खाद्य पदार्थ के रूप में माना जा रहा है। विशेषज्ञ बताते हैं कि नोनी जूस स्वास्थ्य के लिए बहुत अधिक फायदेमंद है। नोनी की पत्तियों के साथ-साथ इसके फल को भी स्वास्थ्य के लिए लाभदायक माना जा रहा है। नोनी जूस को न सिर्फ ऊर्जा बढ़ाने वाला स्रोत माना जा रहा है, बल्कि संक्रमण से राहत, बेहतर नींद, बेहतर पाचन, एलर्जी और अस्थमा के लक्षणों में भी कमी आ सकती है। यह जॉइंट पेन से राहत (noni juice for joint pain) दिलाता है।

पोषक तत्वों से भरपूर है नोनी फल

नोनी साग और नोनी फल दोनों अलग हैं। नोनी साग कॉमन पर्सुलेन या डकवीड (Common Purslane) है, जबकि नोनी फल मोरिंडा सिट्रिफ़ोलिया (Morinda citrifolia) पेड़ से प्राप्त होता है। नोनी की जड़, तना, छाल (Bark), पत्तियां, फूल और फल सभी का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है। नोनी में मुख्य रूप से प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन सी, बायोटिन, फोलेट, कैल्शियम और पोटैशियम भी होता है। इसमें विटामिन सी और अन्य कई कंपाउंड होते हैं, जो शरीर में क्षतिग्रस्त कोशिकाओं की मरम्मत करते हैं। ये प्रतिरक्षा प्रणाली को सक्रिय करने में मदद कर सकते हैं। इसका उपयोग आमतौर पर कब्ज, संक्रमण, दर्द, जॉइंट पेन और गठिया जैसी स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज (noni juice for joint pain) के लिए किया जा सकता है।

कडवे स्वाद वाले फल से मिलता है नोनी जूस (Noni Fruit Juice)

नोनी जूस मोरिंडा सिट्रिफ़ोलिया (Morinda citrifolia) पेड़ के फल से प्राप्त होता है। यह पेड़ और इसका फल दक्षिण पूर्व एशिया में पाया जाता है। नोनी एक गांठदार आम की तरह फल है। यह पीले कलर का होता है। इसका स्वाद बहुत कड़वा होता है। इसमें एक विशिष्ट गंध होती है। पनीर जब सड़कर बदबू देने लगता है, तो नोनी की गंध भी वैसी ही होती है। पॉलिनेशिया में 2,000 से अधिक वर्षों से पारंपरिक लोक चिकित्सा में नोनी जूस का उपयोग हो रहा है। इसे सुपरफूड फल माना जाता है, जो अपने रीजुवेनेट करने के गुणों के कारण विशेष रूप से पहचाना जाता है। जूस शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, इसलिए यह कई स्वास्थ्य समस्याओं का समाधान कर सकता है।

नोनी जूस मोरिंडा सिट्रिफ़ोलिया (पेड़ के फल से प्राप्त होता है। चित्र : अडोबी स्टॉक

जॉइंट पेन से राहत दिलाता है नाेनी फ्रूट जूस (Noni Juice for Joint Pain)

नोनी के फल के रस में सूजनरोधी गुण (Anti inflammatory Noni Juice) हो सकते हैं। इसके कारण यह जोड़ों के दर्द में सुधार कर सकता है। यह जॉइंट के लचीलेपन और गतिशीलता में सुधार कर सकता है। अर्थराइटिस का दर्द अक्सर बढ़ती सूजन और ऑक्सीडेटिव तनाव से जुड़ा होता है। नोनी जूस सूजन को कम करता है। फ्री रेडिकल्स खत्म कर प्राकृतिक रूप से दर्द से राहत प्रदान कर सकता है। नोनी गाउट (noni juice for joint pain) के कारण होने वाले यूरिक एसिड के जमाव को भी प्रभावी ढंग से कम कर सकता है। ब्लड में यूरिक एसिड क्रिस्टल कंसन्ट्रेशन बढ़ने के कारण होता है।

हर दिन कितना जूस पीना है सही (Ideal dose of noni fruit juice)

फ़ूड जर्नल के अनुसार, प्रति दिन 750 मिलीलीटर या 25 औंस से अधिक नोनी जूस पीना सुरक्षित है। यह अन्य फलों के जूस की तरह ही सुरक्षित है। नोनी (Morinda citrifolia) को अक्सर अनिद्रा के लिए पारंपरिक दवा या हर्बल ट्रीटमेंट के तौर पर उपयोग में लाया जाता है। इसमें मेलाटोनिन और सेरोटोनिन होते हैं, जो इनसोम्निया से पीड़ित लोगों की नींद की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करते हैं। यदि आप तनाव में हैं, तो नियमित रूप से नोनी जूस पीने से भी साउंड स्लीप (noni juice for joint pain) में भी मदद मिल सकती है।

joint pain ko khatam karta hai noni juice.
प्रति दिन 750 मिलीलीटर या 25 औंस से अधिक नोनी जूस पीना सुरक्षित है। चित्र : शटरस्टॉक

याद रखें

लैक्सेटिव गुणों के कारण यह दस्त का कारण बन सकता है। नोनी का जूस अधिक पीने से लिवर को नुकसान पहुंच सकता है। हाई ब्लड पोटैशियम या हाइपरकेलेमिया की संभावना भी बनने लगती है।

यह भी पढ़ें :-Pain Relief Gel Vs Pain Killer Pills : एक्सपर्ट बता रहे हैं 4 कारण, क्यों पेन किलर्स से बेहतर है पेन रिलीफ जेल



Source link