[ad_1]

लौकी की सब्जी बहुत लोगों को पसंद नहीं आती। इसलिए कई लोगों के घर में लौकी आती भी नहीं है। पर अपनी नापसंद सब्जी को जब आप रसीले टमाटरों के साथ मिक्स करते हैं, तो इनका स्वाद और फायदे डबल हो जाते हैं।

लौकी का जूस और लौकी की सब्जी को वजन कम करने के लिए काफी अच्छा माना जाता है। लेकिन कई लोगों को लौकी का स्वाद पसंद नहीं होता है जिसके कारण वे इसका सेवन नहीं कर पाते हैं। अगर आप भी उन लोगों में से हैं जो वजन तो कम करना चाहते है लेकिन लौकी से दूर भी रहना चाहते है। तो आज हम आपके लिए लौकी और टमाटर के सूप की बहुत ही स्वादिष्ट (Tomato and bottle gourd soup recipe) रेसिपी लेकर आए हैं, जिसके बाद आप लौकी को कभी न नहीं कर पाएंगे।


वजन कम करने में कैसे मददगार है लौकी (Advantages of Tomato and bottle gourd soup)

1 कौलोरी नहीं बढ़ती

लौकी में कैलोरी की संख्या बहुत ही कम होती है और वसा भी बहुत अधिक नहीं होता है, जिससे यह उन लोगों के लिए उपयुक्त विकल्प है जो अपना वजन नियंत्रित करना चाहते हैं। लौकी को अपने भोजन में शामिल करके, आप कैलोरी की मात्रा को बढ़ने से रोक सकते है।

bottle gourd ke juice hydrate rakhte hain.
पोषक तत्वों से भरपूर लौकी के बीज पाचन सम्बन्धी कई समस्याओं को दूर करते हैं। चित्र : शटरस्टॉक

2 शरीर को डिटॉक्स करता है

लौकी में पानी अधिक मात्रा में होता है जिसके कारण ही इसमें कैलोरी की संख्या कम होती है। इसमें 92% पानी की मात्रा होती है और ये आपके हाइड्रेशन का एक बहुत अच्छा स्रोत हो सकता है। पानी की मात्रा अधिक होने के कारण आपका पेट जल्दी भरता है जिससे आप अधिक खाने से बचते है।

पानी की अधिक मात्रा अपके शरीर को डिटॉक्स भी करती है जिससे आपके शरीर से सारे खराब पदार्थ को बाहर करना आसान हो जाता है।

3 फाइबर के कारण पाचन तंत्र के लिए बेहतर

लौकी डाइट्री फाइबर, उसमें भी अघुलनशील फाइबर का एक अच्छा स्रोत है। फाइबर मल में बल्क को जोड़ता है, गट नियमितता को बढ़ाता है और कब्ज को रोकने में मदद करता है। इसके अलावा, फाइबर आपकी पाचन प्रक्रिया को धीमा कर देता है, जो आपको अधिक भूख लगने से बचाता है। अगर आपका पेट लंबे समय तक भरा रहेगा तो आपका वजन तेजी से नहीं बढ़ेगा।

यह भी पढ़ें

दालचीनी का पानी शुगर क्रेविंग को भी करता है कंट्रोल, मेरी मम्मी बताती हैं इसके फायदे और बनाने का तरीका

4 रक्त शर्करा को तेजी से बढ़ने नहीं देता

लौकी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। जिस चीजों का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है वे खाद्य पदार्थ धीरे-धीरे पचते और अवशोषित होते हैं। इससे ब्लड शुगर के स्तर में धीरे-धीरे और लगातार वृद्धि होती है। लौकी में कम जीआई होता है।

कम जीआई वाले खाद्य पदार्थों का सेवन ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने और ऊर्जा के स्तर में बढ़ाने में मदद कर सकता है, जिससे भूख को नियंत्रित करने और वजन को बनाए रखने में भी मदद मिलती है।

नोट कीजिए लौकी और टमाटर के सूप की रेसिपी (Tomato and bottle gourd soup)

लौकी और टमाटर का सूप बनाने के लिए आपको चाहिए

कटी हुई लौकी 2 कप
कटे हुए टमाचर 1 कप
प्याज कटा हुई 1
2 कलिया लहसुन, बारीक काट लें
अदरक का टुकड़ा, कद्दूकस किया हुआ 1 इंच
वेजिटेबल ब्रोथ या पानी 2 कप
ऑलिव ऑयल या घी 1 चम्मच
नमक और काली मिर्च स्वादानुसार

healthy Soup to lose weight
लौकी डाइट्री फाइबर, उसमें भी अघुलनशील फाइबर का एक अच्छा स्रोत है। चित्र : शटरस्टॉक

ऐसे बनाएं लौकी और टमाटर का सूप (Steps to make Tomato and bottle gourd soup)

  1. एक बड़े बर्तन में मध्यम आंच पर ऑलिव ऑयल या घी गर्म करें। कटा हुआ प्याज, लहसुन और कसा हुआ अदरक डालें। प्याज को लगभग 3-4 मिनट तक भून लें।
  2. अब इसमें कटी हुई लौकी और टमाटर डालें। लौकी को प्याज के साथ अच्छे से मिलाएं।
  3. वेजिटेबल ब्रोथ या पानी डालें, यह सुनिश्चित करते हुए कि सब्जियां पानी में डूबी हुई हैं।
  4. उबलने के बाद आंच धीमी कर दें और बर्तन को ढक दें। सूप को लगभग 20-25 मिनट तक या लौकी के नरम और पक जाने तक उबलने दें।
  5. सूप को गैस से हटा लें और इसे थोड़ा ठंडा होने दें। फिर, एक ब्लेंडर का उपयोग करके, सूप को चिकना होने तक मिक्स कर लें।
  6. सूप को एक बार फिर धीमी आंच पर वापस रख दें। स्वादानुसार नमक और काली मिर्च डालें। अपने पसंद के मसाले भी डाल सकते है।
  7. सूप को और 5-10 मिनट के लिए धीमी आंच पर पकाएं ताकि स्वाद एक साथ मिक्स हो जाए।
  8. अगर चाहें तो लौकी और टमाटर के सूप को कुरकुरी ब्रेड या क्रैकर्स के साथ गर्मागर्म परोसें।

ये भी पढ़े- दालचीनी का पानी शुगर क्रेविंग को भी करता है कंट्रोल, मेरी मम्मी बताती हैं इसके फायदे और बनाने का तरीका


[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *