[ad_1]

पेट की चर्बी बेहद जिद्दी होती है और यह जितनी जल्दी आती है, इसे कम करना उतना ही मुश्किल होता है। ऐसे में प्रोटीन युक्त डाइट पेट की जिद्दी चर्बी को कम करने में आपकी मदद कर सकती है।

प्रोटीन एक बेहद खास पोषक तत्व है, जो समग्र सेहत के लिए बेहद खास होते है। इसकी सबसे बड़ी गुणवत्ता यह है, की ये वेट लॉस में बेहद प्रभावी रूप से कार्य करता है। वेट लॉस प्लान कर रहे सभी लोगों को अपनी डाइट में पर्याप्त प्रोटीन लेने की सलाह दी जाती है, जिससे की वेट लॉस जर्नी आसान हो सकती है। बढ़ता वजन सभी के लिए एक बेहद कॉमन प्रॉब्लम बनता जा रहा है। खासकर मोटापा यानी की चर्बी सबसे पहले पेट और कमर के हिस्से को प्रभावित करती है। पेट की चर्बी बेहद जिद्दी होती है और यह जितनी जल्दी आती है, इसे कम करना उतना ही मुश्किल होता है।

ऐसे में प्रोटीन युक्त डाइट पेट की जिद्दी चर्बी को कम करने में आपकी मदद कर सकती है। प्रोटीन बॉडी की एक्स्ट्रा चर्बी को बर्न करने की कैपेसिटी को बढ़ा देता है। अगर आप भी पेट की चर्बी को कम करने के लिए स्ट्रगल कर रही हैं, तो आपको प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों को डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए (protein wealthy meals to burn stomach fats)।

क्या है प्रोटीन और बैली फैट का संबंध (How Protein is essential to burn fats)

प्रोटीन नियमित आहार का एक अनिवार्य हिस्सा होना चाहिए। यह एक आवश्यक पोषक तत्व है, जो वेट लॉस में आपकी मदद करता है। अपने वेट लॉस डाइट में प्रोटीन को जरूर शामिल करें, इससे आपको बेहद प्रभावी परिणाम देखने को मिलेगा। खासकर यदि आप पेट की चर्बी को कम करने का सोच रही हैं, तो आपको प्रोटीन जरूर लेना चाहिए।

Jaanein protein deficiency ke nuksaan
प्रोटीन की कमी बढ़ने से बार बार भूख लगने की समस्या का सामना करना पड़ता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

पेट की चर्बी सहित शरीर के कुल वजन को कम करने के लिए आपको अधिक कैलोरी बर्न करने की जरूरत है। मेटाबोलिज्म को बढ़ावा देने से आपको पेट की चर्बी को कम करने में मदद मिलती है। प्रोटीन आपके मेटाबोलिज्म को बढ़ावा देता है जिससे आपको अधिक कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है। इससे पेट की चर्बी को अधिक प्रभावी रूप से कम किया जा सकता है।

यहां जानें बेली फैट कम करने के लिए प्रोटीन युक्त कुछ खास खाद्य पदार्थों के नाम (protein wealthy meals to burn stomach fats):

1. अंडा (Egg)

अंडा प्रोटीन का एक खास पॉवरहाउस है, इनमें सभी नौ महत्वपूर्ण अमीनो एसिड पाए जाते हैं, जो उन्हें प्रोटीन का एक बेहतरीन स्रोत बनाते हैं। इसके अतिरिक्त, अंडा कोलीन से भरपूर होता है, जो पेट की चर्बी को कम करने में एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व की तरह काम करता है। ब्रेकफास्ट में अंडे का सेवन पूरे दिन भूख को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है, जिससे बॉडी में कैलोरी की मात्रा कम हो जाती है।

यह भी पढ़ें

बाजूओं में बढ़ने लगा है दर्द और ऐंठन, तो इन योगासनों के नियमित अभ्यास से पाएं राहत

2. ग्रीक योगर्ट (Greek Yogurt)

ग्रीक योगर्ट प्रोटीन का एक उत्कृष्ट स्रोत है, इसमें नियमित दही की तुलना में लगभग दोगुना प्रोटीन होता है। ग्रीक योगर्ट उन लोगों के लिए बेहद प्रभावी साबित हो सकता है, जिन्हे पेट और कमर की चर्बी को कम करने में बेहद प्रभावी माना जाता है। ग्रीक योगर्ट में मौजूद प्रोबायोटिक्स आंत के स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं, जो समग्र स्वास्थ्य में सुधार करता है, वहीं वेट मैनेजमेंट में आपकी मदद करते हैं।

यह भी पढ़ें: होली पर फैमिली पार्टी करनी है, तो ट्राई करें कच्चे केले की ये 3 रेसिपीज, शुगर और हाजमे की समस्या में भी ले सकते हैं आनंद

3. मछली (Fish)

सैल्मन, मैकेरल और सार्डिन जैसी फैटी फिश प्रोटीन सहित ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर होती हैं। ओमेगा-3 इंटेस्टाइन में जमे फैट को कम करने में बेहद प्रभावी माना जाता है। अपने नियमित डाइट में फैटी फिश को शामिल करने से इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार और सूजन को कम करने में मदद मिल सकती है, जिससे पेट की चर्बी कम करने में मदद मिलती है।

vegan aur vegetarian diet dil ki sehat ke liye faydemand hai.
वीगन और वेजिटेरियन डाइट दिल की सेहत के लिए फायदेमंद है। चित्र: शटरस्टॉक

4. हरी पत्तेदार सब्जियां (Inexperienced greens)

आमतौर पर सब्जियों को प्रोटीन रहित समझा जाता है, परंतु असल में पालक, केल और स्विस चार्ड जैसी हरी पत्तेदार सब्जियों में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन होता है। इनमें कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट भी कम होते हैं, जो इन्हे आपकी कमर एवं पर की चर्बी को कम करने के लिए एक उत्कृष्ट स्रोत बनाते हैं।

यदि आप पेट की चर्बी से परेशान हैं, तो अपनी नियमित डाइट में पर्याप्त मात्रा में हरी पत्तेदार सब्जियां शामिल करें। यह आपके शरीर में प्रोटीन की आवश्यकता को पूरा करने की साथ ही आपको लंबे समय तक संतुष्ट रखता है, जिससे कि आपको बार-बार भूख नहीं लगती। वहीं ये फैक्टर्स पेट की चर्बी को कम करने में सहायता करते हैं और शरीर को आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करते हैं।

5. सीड्स और नट्स (Seeds aur Nuts)

सीड्स और नट्स दो ऐसे खाद्य स्रोत हैं, जिनमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं। इनमें प्रचुर मात्रा में प्रोटीन, हेल्दी फैट और फाइबर होते हैं। बादाम, अखरोट, चिया सीड्स और अलसी के बीज में विशेष रूप से प्रोटीन और ओमेगा-3 फैटी एसिड की मात्रा पाई जाती है। अपने नियमित आहार में मुट्ठी भर नट्स और सीड्स को शामिल करने से भूख को नियंत्रित करने और विशेष रूप से पेट क्षेत्र के आसपास के फैट को कम करने में मदद मिल सकती है।

cottage-cheese
हृदय रोग को रोकने के लिए कम वसा वाले डेयरी (दूध, दही और चीज़) का चुनाव किया जा सकता है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

6. कॉटेज चीज़ (cottage cheese)

कॉटेज चीज़ कम कैलोरी वाले डेयरी उत्पाद है जो प्रोटीन से भरपूर होते हैं, वहीं इनमें सीमित मात्रा में फैट पाया जाता है। इसमें कैसिइन प्रोटीन होता है, जो धीरे-धीरे पचता है और आपको लंबे समय तक संतुष्ट रखता है, जिससे आपका कैलोरी इंटेक सीमित रहता है। पनीर भी कैल्शियम का एक अच्छा स्रोत है, जो कमर की चर्बी और दर्द को कम करने और पेट की चर्बी के निचले स्तर पर प्रभावी रूप से काम करता है।

यह भी पढ़ें: प्याज का इंस्टेंट अचार बदलेगा खाने का ज़ायका और आपकी सेहत को देगा ये 4 फायदे

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *