एक चुटकी काला नमक खाने के ज़ायके को पूरी तरह से बदल देता है। इसका चटपटा स्वाद और पथरीली महक स्वाद के अलावा सेहत को भी कई फायदे पहुंचाती है। खासतौर से आयुर्वेदिक दवाओं में प्रयोग होने वाला काला नमक न केवल मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करता है बल्कि इससे शरीर में इलेक्ट्रोलाइटस की मात्रा भी उचित बनी रहती है। आयरन और पोटेशियम क्लोराइड से भरपूर काला नमक शरीर को कई समस्याओं से बचाता है। जानते हैं काला नमक किस प्रकार से है स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद (benefits of kala namak)।


इस बारे में बातचीत करते हुए नूट्रिशनिस्ट एंव डायटीशियन मनीषा गोयल ने बताया कि काले नमक में आयरन, पेटेशियम, मैग्नीशियम व सल्फर कंटेट की अधिकता होती है। जो पेट संबधी समस्याओं से शरीर को बचाता है। ये गट हेल्थ को हेल्दी रखने के साथ हार्ट हेल्थ के लिए भी फायदेमंद है। दरअसल, इसमें सोडियम की मात्रा कम होती है। जो एक एपिटाइज़र के तौर पर शरीर को फायदा पहुंचाता है।

पानी और मिनरल्स का संतुलन बनाए रखने के लिए थोड़ी मात्रा में सोडियम की आवश्यकता होती है। चित्र : अडोबी स्टॉक

जानें काले नमक के फायदे

1. ब्लड प्रेशर को करे नियंत्रित

एनआईएच के अनुसार शरीर में सोडियम की अधिक मात्रा से ब्लड प्रेशर बढ़ने की संभावना बढ़ जाती है। जो हाइपरटेंशन और हार्ट हेल्थ के खतरे का कारण बनने लगता है। ऐसे में सोडियम इनटेक को कम करने के लिए काले नमक का सेवन फायदेमंद साबित होता है। काले नमक में मौजूद मिनरल्स की मात्रा शरीर करे निर्जलीकरण की स्थिति से भी बचाती है।

2. पाचनतंत्र को करे मज़बूत

नूट्रिशनिस्ट सीमा सिंह बताती हैं कि काले नमक में पाई जाने वाली एल्कलाइन प्रापर्टीज शरीर में अधिक मात्रा में एसिड सिक्रीशन को नियंत्रित करती है। इससे वे शरीर को पेट दर्द, ब्लोटिंग कब्ज और डायरिया व बदहजमी से बचाता है। इसे आप नींबू पानी में मिलाकर पी सकते हैं। इसके अलावा सैलेड पर डालकर भी खा सकते हैं। इसमें पाया जाने वाला आयरन एसिड रिफ्लक्स की समस्या से भी बचाता है।

Kale namak ke fayde
काले नमक में पाई जाने वाली एल्कलाइन प्रापर्टीज शरीर में अधिक मात्रा में एसिड सिक्रीशन को नियंत्रित करती है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

3. पीरियड क्रैंपस से दिलाए राहत

पेट में होने वाले दर्द को दूर करने के लिए भी काले नमक का सेवन किया जाता है। एक्सपर्ट के अनुसार दही में एक चुटकी काला नमक मिलाकर खाने से क्रैंपस दूर होने लगते हैं। इसमें मौजूद पोटेशियम की मात्रा मसल्स को हेल्दी बनाती है। काला नमक खाने से शरीर को कैल्शियम, विटामिन और इलेक्ट्रोलाइट्स की प्राप्ति होती है। जो शारीरिक गतिविधियों को नियमित करने में मददगार साबित होती हैं।

4. इम्यून सिस्टम को बनाए मज़बूत

इसमें मौजूद पोषक तत्व शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। इससे संक्रामक रोगों का खतरा टल जाता है। शरीर हेल्दी बना रहता है और ब्लड सर्कुलेशन भी नियमित रहता है। इसमें मौजूद आयरन की मात्रा शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी को पूरा कर देती है। इससे बार बार होने वाली थकान और मौसमी बीमारियां दूर रहती हैं।

5. हेयरफॉल करे कम

इसमें पाए जाने वाले मिनरल्स हेयर ग्रोथ में मददगार साबित होते हैं। इससे फॉलिकल्स को मज़बूती मिलती है और बालों में बढ़ने वाला रूखापन भी दूर होने लगता है। इससे हेयर थिनिंग की समस्या भी हल होने लगती है और बालों का वॉल्यूम बढ़ जाता है। स्कैल्प पर मौसम बदलने के साथ होने वाली एलर्जी, रूसी और खुजली से बचने के लिए काले नमक को पानी में मिलाकर बालों को धोने से राहत मिल जाती है।


Kala namak oral health ko rakhe majboot
काले नमक को गुनगुने पानी मे डालकर रात को सोने से पहले गार्गल करने से दांतों के स्वास्थ्य को मज़बूती मिलती है। चित्र शटरस्टॉक।

6. ओरल हेल्थ रहे फिट

काले नमक को गुनगुने पानी मे डालकर रात को सोने से पहले गार्गल करने से दांतों के स्वास्थ्य को मज़बूती मिलती है। इससे दांतों का दर्द और कैविटी की समस्या से भी बचा जा सकता है। मसूढ़ों के फूलने और सांसों की दुगंध की समस्या भी हल हे जाती है।

यह भी याद रखें

रोज़ाना बाथिंग टब में ब्लैक सॉल्ट डालकर नहाने से त्वचा का मॉइश्चर कम होने लगता है। दरअसल, देर तक टब में बैठने से त्वचा का रूखापन बढ़ जाता है।

ज्यादा मात्रा में काले नमक का सेवन करने से शरीर में वॉटर रिटेंशन की समस्या बढ़ने लगती है। इसके अलावा ब्लड प्रैशर को भी प्रभावित करता है।

ये भी पढ़ें- ये 5 संकेत बताते हैं कि आपको है बॉडी डिटॉक्स की जरूरत



Source link