[ad_1]

सेक्स के बाद महिलाओं में कई सारे इफेक्ट नजर आ सकते हैं। हालांकि, इंटरकोर्स के बाद हर महिला में अलग-अलग प्रकार के लक्षण देखने को मिलते हैं। वहीं कुछ महिलाएं पूरी तरह से सामान्य रहती हैं, उन्हें किसी प्रकार की कोई भी परेशानी नहीं होती। आज हम बात करेंगे सेक्स के बाद महिलाओं में नजर आने वाले ऐसे ही कुछ प्रभाव के बारे में। तो चलिए जानते हैं, इस विषय पर कुछ जरूरी जानकारी।


हेल्थ शॉट्स ने महिलाओं में सेक्स के बाद नजर आने वाले प्रभाव को लेकर सीके बिरला हॉस्पिटल, गुरुग्राम की ऑब्सटेट्रिक्स और गाइनेकोलॉजिस्ट डॉक्टर आस्था दयाल से बात की। डॉक्टर ने कुछ ऐसे लक्षण बताएं हैं, जो आमतौर पर इंटरकोर्स के बाद महिलाओं में देखने को मिलते हैं (After sex effects in female)। हालांकि, कुछ लक्षणों को आप घर पर ट्रीट कर सकती हैं, तो कुछ गंभीर लक्षण को लेकर डॉक्टर की सलाह लेना आवश्यक है।

जानें महिलाओं में सेक्स के बाद के संकेत (After sex effects in female)

1. हो सकता है बर्निंग सेंसेशन का एहसास

सेक्स के बाद महिलाओं को वेजाइना में बर्निंग सेंसेशन का एहसास होना बिल्कुल सामान्य है। सेक्स के दौरान अधिक फ्रिक्शन होने या वेजाइनल टिशु के एंलार्ज होने से ऐसा होता है। आमतौर पर यह समस्या इंटरकोर्स के कुछ समय बाद ठीक हो जाती है। यदि यह कुछ घंटे या पूरे दिन तक बनी हुई है, तो आपको किसी प्रकार की अन्य परेशानी या संक्रमण हो सकता है। ऐसे में डॉक्टर से मिल सलाह लेना उचित रहेगा।

sahi aur surakshit lube ka istemal kren
सही और सुरक्षित ल्यूब का इस्तेमाल करना चाहिए। चित्र : शटरस्टॉक

इस स्थिति से बचने के लिए क्या करें : सेक्स के दौरान भरपूर मात्रा में ल्यूब का इस्तेमाल करें। प्राकृतिक ल्यूब अधिक फायदेमंद रहेगा।

2. सेक्स के बाद हो सकती है स्पॉटिंग

इंटरकोर्स के बाद कई बार आपको ब्लड स्पॉट नजर आ सकता है। सर्विक्स में इन्फ्लेशन आने पर सेक्स के दौरान जब यह संकुचित होता है तो ब्लड स्पॉट नजर आ सकता है। इसके अलावा रफ सेक्स या सेक्सुअल पार्टनर बदलने पर वेजाइना टियर हो सकती है, जिस स्थिति में भी स्पॉटिंग नजर आता है। हालांकि, यह कोई गंभीर परेशानी नहीं है, परंतु फिर भी इसके प्रति सचेत रहना बेहद महत्वपूर्ण है।

जानें इस स्थिति में क्या करें : इस स्थिति में सेक्स के बाद अपने वेजाइनल एरिया को अच्छी तरह से क्लीन करें। यदि दोबारा से ब्लड स्पॉटिंग नजर आए या बार-बार सेक्स के बाद ऐसा हो तो अपनी गाइनेकोलॉजिस्ट से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें : फीमेल सेक्स हॉर्मोन की कमी बोरिंग बना सकती है आपकी सेक्स लाइफ, जानिए इसे कैसे बढ़ाना है

3. वेजाइना में हो सकती है इचिंग

कई बार हम कुछ ऐसे कंडोम और ल्यूब का इस्तेमाल कर लेते हैं जिससे वेजाइना बेहद संवेदनशील हो जाती है। वहीं ऐसे में इचिंग और जलन जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अनप्रोटेक्टेड सेक्स और हाइजीन का ध्यान न रखने से भी इचिंग की समस्या हो सकती है।

पोस्ट सेक्स सॉल्यूशन : यदि ऐसा नियमित रूप से ऐसा हो रहा है, तो आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए और आपको किस चीज से एलर्जी है उसकी जांच करवानी चाहिए। इसके अलावा यदि यह कभी कभार होता है, तो सेक्स के पहले खुद भी और अपने पार्टनर से भी प्रॉपर हाइजीन मेंटेन करने को कहें, साथ ही अनप्रोटेक्टेड सेक्स न करें।

female orgasm
पार्टनर से इस विषय पर खुलकर बातचीत करनी चाहिए। चित्र : एडॉबीस्टॉक

4. मांसपेशियों में हो सकता है दर्द का अनुभव

सेक्स की तुलना एक्सरसाइज से की जाती है और इसे शारीरिक गतिविधियों के रूप में जाना जाता है। ऐसे में सेक्सुअल एक्टिविटी परफॉर्म करने के बाद कई बार आपको अपने शरीर के कई हिस्सों में दर्द और खिंचाव का अनुभव हो सकता है खासकर हाथ, पैर, कमर, थाइज आदि। कुछ खास पोजीशन में सेक्स करने से यह समस्या अधिक बढ़ सकती है। हालांकि, यह कोई परेशानी की बात नहीं है परंतु फिर भी इसका ध्यान रखें।

इस स्थिति में क्या करें : सेक्स के बाद मांसपेशियों में खिंचाव महसूस होना बिल्कुल आम सामान्य है। ऐसी स्थिति में आप सेक्स के पहले थोड़ा पानी पी सकती हैं और सेक्स के बाद भी पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं, ताकि बॉडी पूरी तरह से हाइड्रेटेड रहे और मांसपेशियों में खिंचाव का एहसास कम हो।


यह भी पढ़ें : फीमेल सेक्स हॉर्मोन की कमी बोरिंग बना सकती है आपकी सेक्स लाइफ, जानिए इसे कैसे बढ़ाना है

[ad_2]

Source link