विटामिन और मिनरल त्वचा की खोई ताज़गी को लौटाने में कारगर साबित होते है। जानते हैं मॉइश्चराइजिंग गुणों से भरपूर अखरोट किस प्रकार से है त्वचा के लिए फायदेमंद और इसे कैसे करें त्वचा पर अप्लाई।

मौसम में जैसे जैसे बदलाव आता है, त्वचा पर भी उसका प्रभाव नज़र आने लगता है। त्वचा पर बढ़ने वाला रूखापन और खिंचाव एजिंग साईन और ड्राइनेस का कारण साबित होते हैं। ऐसे में विटामिन और मिनरल त्वचा की खोई ताज़गी को लौटाने में कारगर साबित होते है। विटामिन बी और ई से भरपूर अखरोट चेहरे की त्वचा को हेलदी और मुलायम बनाने में मदद गार साबित होता है। हवा के संपर्क में आने वाली स्किन पर डेड स्किन सेल्स की समस्या बढ़ने लगती है, जो कई समस्याओं का कारण साबित होती है। जानते हैं मॉइश्चराइजिंग गुणों से भरपूर अखरोट किस प्रकार से है त्वचा के लिए फायदेमंद और इसे कैसे करें त्वचा पर अप्लाई (Walnut advantages for pores and skin and tricks to apply)।


अखरोट में पाई जाने वाली विटामिन ई की मात्रा कोलेजन बूस्ट करने में मदद करती है। इससे त्वचा ऑक्सीडेटिव तनाव से दूर रहकर हेल्दी बनी रहती है। त्वचा पर अखरोट को लगाने से स्किन डीप मॉइश्चराइज़ होने लगती है और त्वचा की इलास्टीसिटी बनी रहती है। ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर अखरोट से पिगमेंटेशन की समस्या हल होती है और चेहरे पर मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन भी नियमित बनी रहेगा।

ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर अखरोट से पिगमेंटेशन की समस्या हल होती है और चेहरे पर मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन भी नियमित बनी रहेगा। चित्र: शटरस्टॉक

जानते हैं अखरोट किस प्रकार से हैं त्वचा के लिए फायदेमंद

1. एजिंग साइंस से मुक्ति

एंटीऑक्सीडेंटस और विटामिन बी से भरपूर अखरोट चेहरे को सन डैमेज और प्रदूषण से बचाने में मदद करते हैं। इससे त्वचा पर रूखेपन और एंजिंग का जोखिम कम होने लगता है। इसमें मौजूद विटामिन ई की मात्रा स्किन सेल्स को रिपेयर करने में मदद करते हैं, जिससे त्वचा का लचीलापन बना रहता है और समय से पहले दिखने वाली महीन रेखाओं से मुक्ति मिल जाती है।

2. दाग धब्बे होंगे कम

उम्र के साथ त्वचा पर बनने वाले स्कार्स और स्पॉट्स से राहत पाने के लिए अखरोट से बना स्क्रब फायदेमंद है। इसके निंरतर इस्तेमाल से स्किन ब्राइटनिंग में मदद मिलती है। साथ ही त्वचा पर बढ़ने वाली टैनिंग भी कम होने लगती है। ओमेगा 3 फैटी एसिड त्वचा पर नेचुरल ऑयल को बनाएए रखने में मदद करते हैं। इससे पोर्स में मौजूद गंदगी को दूर करके त्वचा को हेल्दी बनाए रखने में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें

इंटरमिटेंट फास्टिंग के दौरान कमजोरी महसूस करती हैं, तो इन 4 तरीकों से रखें खुद को एनर्जेटिक


skin ko clean karna basic routine hai
यह जरूरी है कि आप अपनी त्वचा को नियमित तौर पर क्लीन करें। चित्र : अडोबीस्टॉक

3. काले घेरों की समस्या होगी हल

अखरोट में विटामिन बी6, फोलेट और फासफोरस पाया जाता है, जिससे फ्री रेडिकल्स की समस्या से मुक्ति मिलती है और त्वचा हेल्दी रहती है। देर रात तक जागना, पानी की कमी और अनियमित खानपान आंखों के नीचे काले घेरों का कारण बनने लगते है। अखरोट के तेल को रात को सोने से पहले आंखों के नीचे लगाने से स्किन सेल्स बूस्ट होने लगते हैं और त्वचा का रूखापन भी कम हो जाता है। इससे आंखों के नीचे पफ्फीनेस को कम किया जा सकता है।

4. नेचुरल एक्सफोलिएटर

त्वचा के नेचुरल ग्लो को बनाए रखने के लिए अखरोट एक नेचुरल एक्सफोलिएटर के तौर पर बेहद कारगर साबित होता है। इससे तैयार पेस्ट से चेहरे पर हल्के हाथों से मसाज करके चेहरे को धोने से स्किन को फायदा मिलता है। इससे स्किन का मॉइश्चर और ग्लो बरकरार रहता है।

कैसे करें वॉलनट स्क्रब तैयार

वॉलनट हनी स्क्रब (Walnut honey scrub)

मुट्टीभर अखरोट लेकर उन्हें 1 कटोरी दूध में भिगो दें। ओवरनाइट सोक करने के बाद अब इन्हें ब्लैण्ड करें और स्मूद पेस्ट तैयार कर लें। इस पेस्ट में 1 चम्मच शहद का मिलाएं और इसे चेहरे और गर्दन पर लगाएं। इससे चेहरे की त्वचा का ग्लो बरकरार रहेगा और स्किन हेलदी बनी रहेगी।


2. वॉलनट पपाया स्क्रब (Walnut papaya scrub)

त्वचा के लचीलेपन को बरकरार रखने के लिए 8 से 10 अखरोट लेकर उन्हें पानी में ओवरनाइट सोक करें। अब पानी को अलग करके उसमें पपीते का पल्प मिलाएं और ब्लैण्ड कर लें। इसमें चुटकी भर हल्दी और गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगाएं। इससे चेहरे पर दिखने वाली झाइयों की समस्या हल हो जाती है और स्किन का ग्लो बरकरार रहता है।

Homemade walnutface pack hai faydemand
फेस पैक को चेहरे पर लगाने से स्किन में मौजूद मृत कोशिकाओं को चेहरे पर मसाज करके आसानी से रिमूव किया जा सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

3. वॉलनट योगर्ट स्क्रब

त्वचा को हाइड्रेट रखने के लिए अखरोट को पीसकर 1 चम्मच पाउडर तैयार कर लें। अब उसे दही में मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें। इससे चेरे गर्दन और बाजूओं पर लगाएं। इससे त्वचा का रूखापन दूर होगा और त्वचा में नमी बरकरार रहेगी। इससे अनइवन टोन की समस्या भी दूर हो जाती है।



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *