चिलगोजा के फायदे : चिलगोजा काफी पावरफुल सुपरफूड होता है। इसमें कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। एक रिसर्च में पता चला है कि चिलगोजा शरीर में इंसुलिन की मात्रा बढ़ा देता है। इसका मतलब चिलगोजा को (मधुमेह) जड़ से समाप्त कर सकता है। चिलगोजा में पाए जाने वाले एंटी-डायबिटिक गुण आपको स्वास्थ्यमंदर (Chilgoza Advantages) बनाते हैं। हालांकि चिलगोजा में बहुत ज्यादा एडवांस पाया जाता है लेकिन ये नुकसान नहीं पहुंचाते हैं। इसमें बहुत कम संतृप्त विकार होता है जो दिल की सेहत को खराब रखता है। वीडियो सेलेब्रिटीज को चिलगोजा का उपयोग करने की सलाह देते हैं। आइए जानते हैं इसके फायदे…

इंसुलिन बढ़ा देता है चिलगोजा

अमेरिकन नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी जर्नल में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, चिलगोजा में छनने को खत्म करने की ताकत है। डायबेटिक चहुँओर पर हुए इस शोध में पाया गया कि इनमें मेलोडायलडिहाइड और फास्टिंग ग्लूकोज स्तर काफी अधिक था, जबकि जिलेटिन सर्कस का स्तर काफी कम था। ये चूहे काफी सट्टेबाज थे और उनके स्मार्टफोन और लिवर की क्षमता काफी कम थी। इन चहचहाने को चिलगोजा पाउडर का ओरल डोज दिया, जिसके कुछ ही दिन बाद ही हैरान करने वाला परिवर्तन देखने को मिला। जूट ने पाया कि इन चहचहाहट में मेलोनडायलडिहाइड और फास्टिंग ग्लूकोज स्तर काफी हद तक कम हो गए हैं और जस्टिन की मात्रा बहुत अधिक हो गई है। इतना ही नहीं एंटीऑक्सीडेंट की क्षमता में भी काफी वृद्धि हुई थी।

चिलगोजा के कई फायदे नहीं हैं

सिर्फ ही नहीं बल्कि दिल से जुड़ी बीमारियों में भी काफी हद तक रुकावट आती है। इसमें हेल्दी वसा की मात्रा काफी अधिक होती है, इसी कारण से दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम होता है। एक रिपोर्ट के अनुसार चिलगोजा में प्रोटीन, आयरन और मैग्नीशियम की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है। इससे एनर्जी लेवल एक संकेत में ही बढ़ता है। विटामिन ई के एंटीऑक्सीडेंट पावर की वजह से चिलगोजा त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। चिलगोजा खाने से त्वचा पर चमक बनी रहती है और आप हमेशा जवान दिख सकते हैं। चिलगोजा में ओमेगा 3 फैटी एसिड की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है, जो दिमाग को मजबूत बनाता है।

ये भी पढ़ें

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

.



Supply hyperlink

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *