Meen Rashifal 2024: साल 2024 व्यापार और धन की दृष्टि से न तो लाभदायक रहने वाला है और न ही घाटे वाला. बस आपको अपनी तरफ से लेन-देन के प्रति सचेत रहना होगा. नौकरी, पेशे, करियर में आपका अनुभव और मेहनत मिलकर आपके लिए सफलता के नए रास्ते खोलेंगे. अपने काम में चील की आंख की तरह लक्ष्य और आत्मविश्वास रखने से आप नैतिक रूप से उत्साहित रहेंगे, जिससे काम की गुणवत्ता में सुधार होता रहेगा. आइए अधिक खुलासों के साथ स्वास्थ्य, यात्रा, छात्र, शिक्षार्थी, परिवार, प्रेम, संबंध आदि का सटीक भविष्य जानें.

इस राशि के लोग मानवीय गुणों से भरपूर, व्यवहारकुशल, सरल स्वभाव वाले, कोमल हृदय वाले, सात्विक विचारधारा के धनी, सदाचारी, ईमानदार, विनम्र और संत स्वभाव के होते हैं. बृहस्पति बुद्धि का स्वामी, गुणवान, विद्वान, लोगों में सम्मानित, सुंदर वाणी वाला, उदार, धैर्यवान और गंभीर, सभी गुणों से युक्त और सभी शास्त्रों में निपुण है.

आत्मविश्वास की कमी भी साफ तौर पर देखी जा सकती है. अस्थिर मानसिकता के कारण इनके सिद्धांत और निर्णय बार-बार बदलते रहते हैं. 

व्यापार और धन

  • 07 जनवरी से 01 फरवरी तक बुध-बृहस्पति का नवम-पंचम राजयोग रहेगा, जिसके कारण वर्ष 2024 आपको एक ओर जहां बेहद अनुशासित बनाता नजर आ रहा है, वहीं दूसरी ओर आपके लिए परिस्थितियां भी तेजी से बदलती नजर आएंगी.
  • साल की शुरुआत से 30 अप्रैल तक सप्तम भाव से बृहस्पति का षडाष्टक दोष रहेगा जिसके कारण कमाई तो होगी लेकिन दिखावा और फिजूलखर्ची आपको नुकसान पहुंचा सकती है. ऐसी जगह निवेश करने से बचें जहाँ आपको कुछ खास न मिले और इसके लिए आपको संबंधित क्षेत्र का अध्ययन करना होगा और निकटतम और प्रिय लोगों से भी सलाह लेनी होगी.
  • 14 जून से 29 जून तक जब बुध चतुर्थ भाव में अपने ही घर में हो तो भद्र योग होता है तथा 23 सितम्बर से 10 अक्टूबर तक जब बुध अपने ही घर में हो तथा सप्तम भाव में उच्च का हो तो भद्र योग होता है, कार्य तार्किक और कानूनी रूप से किया गया कार्य पीढ़ी दर पीढ़ी सही साबित होता है. मीडिया, मेडिकल, खाद्य एवं पेय पदार्थ, कपड़ा, फैशन, एनीमेशन से संबंधित व्यवसाय करने वाले इस राशि के लोगों को अधिक लाभ मिल सकता है.
  • 9 अक्टूबर से साल के अंत तक बृहस्पति वक्री रहेगा जिसके कारण आपके साथ कोई छोटा-मोटा धोखा हो सकता है, सावधान रहें. व्यापार और धन के मामले में यह साल आपके लिए औसत रहने वाला है.
  • इस राशि के लोग अगर किसी नए बिजनेस के बारे में सोच रहे हैं तो उसे फरवरी, अप्रैल, जुलाई, अगस्त, नवंबर में शुरू करें. 

नौकरी और पेशा

  • साल की शुरुआत से 30 अप्रैल तक बृहस्पति का आपके 10वें घर से 9वां-5वां राजयोग रहेगा, जिसके कारण साल 2024 आपके लिए नौकरी और पेशे के मामले में खुशियां लेकर आ सकता है. चाहे आप व्यवसाय करते हों, स्व-रोज़गार में हों या नौकरीपेशा वर्ग में हों, हर क्षेत्र के लिए अच्छे समय की उम्मीद की जा सकती है.
  • 13 अप्रैल से 14 मई तक सूर्य दूसरे भाव में उच्च का होगा और छठे भाव और दशमेश के साथ नवम-पंचम राजयोग बनाएगा, जिससे आपका अनुभव और मेहनत दोनों आपके लिए सफलता के नए रास्ते खोलेंगे. आप अपने काम में लक्ष्य और चील की आंख की तरह आत्मविश्वास बनाए रखने से नैतिक रूप से उत्साहित रहेंगे, जिससे काम की गुणवत्ता में सुधार होगा. इससे परफॉर्मेंस में उछाल आएगा.
  • बारहवें भाव में स्थित शनि का दशम भाव से 3-11 संबंध बनेगा, जिससे लाभ के अवसर बनेंगे और आपको प्रशंसा मिल सकती है. अगर आप नौकरी में प्रमोशन की उम्मीद कर रहे हैं तो इस साल आपका सपना पूरा हो सकता है.
  • 16 अगस्त से 16 सितंबर तक सूर्य छठे भाव में अपनी ही राशि में रहेगा और दशम भाव में नवम-पंचम राजयोग रहेगा जिसके कारण नौकरी में आपकी प्रबंधकीय कार्य कुशलता और अनुशासित प्रयास आपको आगे बढ़ाने में पूर्ण रूप से सहायक होंगे. मान-सम्मान बढ़ाने और पदोन्नति पाने में दूसरों से आगे रहते हैं. .
  • अगर आप नई नौकरी ज्वाइन करना चाहते हैं तो फरवरी, मार्च, मई, जून, अगस्त, अक्टूबर को प्राथमिकता देना शुभ हो सकता है. यह साल 2024 आपको नौकरी से जुड़ी लगभग सारी खुशियां दे सकता है, बस काम के प्रति अपना समर्पण कम न होने दें.

परिवार, प्यार और रिश्ता

  • वर्ष 2024 में 18 जनवरी से 11 फरवरी तक शुक्र के दशम भाव में रहने और बृहस्पति के साथ नवम-पंचम राजयोग बनने से परिवार में आपका मान-सम्मान बढ़ेगा. माता, पिता, भाई-बहन तथा परिवारजनों से अच्छी निकटता रहेगी. सब एक दूसरे के काम आएंगे.
  • 31 मार्च से 24 अप्रैल तक आपकी राशि में शुक्र के उच्च राशि में रहने और मालव्य योग होने के कारण वर्ष का पहला भाग प्रेम संबंधों के लिए चुनौतीपूर्ण है, इसलिए बहुत परिपक्वता से काम करने की आवश्यकता होगी. पारिवारिक जीवन की दृष्टि से इस वर्ष जीवन एक नया सवेरा लेकर आएगा और पुरानी परेशानियां धीरे-धीरे खत्म होने लगेंगी.
  • 01 मई से बृहस्पति सप्तम भाव से 9वें-5वें राजयोग में रहेगा जिसके कारण आप अपने वयस्क बच्चों के सपनों को साकार करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे, भविष्य में उनका भाग्य ही उनके काम आएगा.
  • 30 जून से 15 नवंबर तक शनि वक्री रहेंगे और सप्तम भाव से षडाष्टक दोष रहेगा, जिसके कारण प्रेम संबंधों में अत्यधिक विश्वास आपको किसी धोखे का शिकार बना सकता है, सावधान रहें.
  • 09 अक्टूबर से बृहस्पति तीसरे भाव में वक्री हो जाएंगे, जिसके कारण परिवार में कलह की स्थिति बन सकती है, जिससे रिश्तों में टकराव अवश्यंभावी है, आपको धैर्य के साथ स्थितियों को संभालना होगा. कोई आपको पसंद कर सकता है और आपकी रुचि भी हो सकती है.

छात्र और शिक्षार्थी

  • वर्ष की शुरुआत से 30 अप्रैल तक बृहस्पति का पंचम भाव से 4-10 का संबंध रहेगा, जो विद्यार्थियों और शिक्षार्थियों को उनकी बुद्धि के आधार पर वर्ष 2024 में बहुत सफल बना सकता है.
  • साल की शुरुआत से 30 अप्रैल तक 3-11 भाव पर गुरु-शनि का संबंध रहेगा, जिसके कारण इंजीनियरिंग शिक्षा, मेडिकल, मीडिया, मैनेजमेंट से जुड़े छात्रों के लिए यह साल किसी सपने के सच होने जैसा हो सकता है, बशर्ते बहुत मेहनत है.
  • 1 जून से 12 जुलाई तक मंगल दूसरे भाव में अपने ही घर में रहेगा और पंचम भाव पर चतुर्थ दृष्टि के कारण खिलाड़ी अपने प्रशिक्षक, मार्गदर्शक, गुरु, मार्गदर्शक द्वारा सुझाए गए मार्ग पर चलने में सक्षम होगा. इस वर्ष पूर्ण समर्पण और उत्साह, जो भविष्य में आपके खेल करियर में मदद करेगा. पंख देंगे.
  • यदि आप किसी नए कोर्स में प्रवेश के लिए आवेदन करना चाहते हैं या प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग शुरू करना चाहते हैं तो आपको जनवरी, मार्च, अप्रैल, जुलाई, सितंबर, अक्टूबर में अपना फॉर्म भरकर जमा कर देना चाहिए और पढ़ाई भी शुरू कर देनी चाहिए, यह बहुत शुभ होगा . .
  • 15 नवंबर से शनि मार्गी हो जाएंगे, जिसके कारण सेल्फ स्टडी शुरू करने के लिए ये तारीखें अनुकूल साबित हो सकती हैं. इस वर्ष आपकी मानसिक ऊर्जा बहुत ऊंचे स्तर पर रहेगी जो न केवल आपको विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग दिलवा सकती है बल्कि विजेता भी बना सकती है, लेकिन दोस्त, मेहनत से कभी हार मत मानना.

स्वास्थ्य और यात्रा

  • छठे भाव से राहु पर षडाष्टक दोष रहेगा, जिसके कारण साल 2024 के पहले छह महीनों में स्वास्थ्य और यात्रा के मामले में कुछ उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं.
  • 30 जून से 15 नवंबर तक शनि वक्री रहेगा, जिसके कारण स्वास्थ्य संबंधी छोटी-मोटी परेशानियां बनी रहेंगी. कुछ शारीरिक परेशानियां उत्पन्न हो सकती हैं. हालाँकि, इस वर्ष स्वास्थ्य के प्रति थोड़ी सी भी
  • लापरवाही आपके लिए परेशानी का कारण बन सकती है क्योंकि यह दीर्घकालिक रोगों की स्थिति बनाने वाला वर्ष हो सकता है, जिसमें फेफड़ों में संक्रमण, बुखार, सिरदर्द, रक्तचाप की समस्याएँ हावी हो सकती हैं.
  • 9 अक्टूबर से साल के अंत तक बृहस्पति वक्री रहेगा, जिसके कारण अगर आपको सीने में जलन की समस्या है तो आपको विशेष रूप से सतर्क रहने की जरूरत है. याद रखें, यह स्थिति साल की पहली छमाही तक बनी रहती है. अनावश्यक तनाव हो सकता है. ऐसे में मेडिटेशन और हेल्थ सप्लीमेंट्स आपको फायदा पहुंचा सकते हैं.
  • चाहे दोस्तों के साथ यात्रा हो, बिजनेस टूर हो, परीक्षा के लिए यात्रा हो या तीर्थ यात्रा, फरवरी, मार्च, मई, जून, सितंबर, नवंबर और दिसंबर के महीनों में यात्रा करना आपके लिए सकारात्मक परिणामों की दृष्टि से सामान्य रहेगा. रहा है.

सावधान रहें – 15 जनवरी से 13 फरवरी तक सूर्य शत्रु राशि मकर में और 13 फरवरी से 14 मार्च तक सूर्य शत्रु राशि कुंभ में रहेगा, 30 जून से 15 नवंबर तक शनि वक्री रहेगा. बुध 05 अगस्त से 28 अगस्त तक वक्री रहेगा, बृहस्पति 09 अक्टूबर से वर्ष के अंत तक वक्री रहेगा. 

जीवन बदलने वाला क्षण – 31 मार्च से 24 अप्रैल तक शुक्र आपकी राशि मीन में उच्च राशि में रहेगा और मालव्य योग बनाएगा. 1 मई से बृहस्पति वृषभ राशि में रहेगा. 14 जून से 29 जून तक बुध अपने ही घर में चतुर्थ भाव में रहेगा और भद्र योग बनाएगा और 23 सितंबर से 10 अक्टूबर तक बुध अपने ही घर में रहेगा और सातवें घर में उच्च का रहेगा और भद्र योग बनाएगा.

मीन राशि वालों के लिए रत्न, व्रत एवं पूजन
रत्न:- पुखराज, स्वर्ण (न्यूनतम पांच रत्ती)
व्रत:- गुरुवार का व्रत करें.
पूजा:- भगवान विष्णु की पूजा, विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ/करवाना, तुलसी पूजा, केले की पूजा, पूर्णिमा का व्रत, वट वृक्ष की पूजा, पीली वस्तुएं दान करना, ब्राह्मणों को वस्तुएं भेजना, ज्ञान दान, गाय दान, भूमि दान. ऐसा करना फायदेमंद रहेगा.
उपाय:- आपको चने की दाल या पीली दाल से अष्टदल कमल बनाकर पीले कपड़े पर बृहस्पति यंत्र स्थापित करना चाहिए, इसके बाद पीला वस्त्र पहनकर हल्दी की माला से ‘ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरवे नम:’ मंत्र का 57 हजार जाप करना चाहिए.

.



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *