नई दिल्ली:

हम सभी अक्सर रोजमर्रा की जिंदगी में कुछ चीजों पर ध्यान नहीं दे पाते हैं, जो कई बार हम सभी के लिए फायदेमंद होता है. जैसा कि आपने देखा होगा कि बहुत से लोग नॉर्मल ब्रेड की जगह ब्राउन ब्रेड खाना पसंद करते हैं, लेकिन क्या आपने सोचा है कि ब्राउन ब्रेड ही क्यों, इसमें क्या गुण होते हैं? तो आइए हम आपको ब्राउन ब्रेड के बारे में जानकारी देते हैं. ब्राउन ब्रेड एक प्रकार का अनाजी रोटी है जो सफेद रोटी के मुकाबले अधिक स्वस्थ माना जाता है. यह गेहूं के आटे के अलावा ब्राउन या गेहूं के चोकर का उपयोग करके बनाया जाता है, जो इसे गहरे रंग का बनाता है. इसका नाम “ब्राउन ब्रेड” इसलिए है क्योंकि इसका रंग सफेद रोटी की तुलना में काला या ब्राउन होता है.

क्यों इस ब्रेड को खाते हैं लोग?

तो सबसे पहले हम जान लेते हैं कि आखिर ये ब्राउन ब्रेड बनता कैसे हैं? ब्राउन ब्रेड का निर्माण आमतौर पर गेहूं के आटे, चोकर, नमक, पानी, और अन्य सामग्रियों का मिश्रण होता है. इसका निर्माण सामान्यत ब्रेड मशीन या हाथों से किया जाता है. चोकर का उपयोग करने से इसमें फाइबर की मात्रा बढ़ जाती है, जो अधिक सेहतमंद बनाता है. इस ब्रेड को सबसे ज्यादा फिटनेस फ्रेक लोगों को खाते हुए देखा जाता है.

ब्राउन ब्रेड को सेहतमंद माना जाता है क्योंकि इसमें गेहूं के चोकर का उपयोग होता है, जो फाइबर, विटामिन, और मिनरल्स का अच्छा स्रोत होता है. फाइबर की मात्रा अधिक होने से पाचन सिस्टम को स्वस्थ रखने में मदद मिलती है और भोजन को अधिक संतुलित बनाती है.

ये भी पढ़ें- मनाली में जरूर घूमें ये 10 जगत, वरना ट्रिप का मजा रह जाएगा अधूरा

किन बीमारियों से मिलती है राहत?

अगर हम अपने डाइट में इसे शामिल कर लेते हैं और रेगुलर सेवन करते हैं तो इससे हाई ब्लडप्रेशर, मोटापा, और मधुमेह की जोखिम कम होता है. ब्राउन ब्रेड का स्वाद सामान्य रोटी की तुलना में थोड़ा अलग होता है. इसका गेहूं का चोकर का स्वाद मधुर और हल्का होता है, जो इसे अधिक पसंदनीय बनाता है. यह ताजगी और स्वाद को बनाए रखने के लिए आदर्श होता है. ब्राउन ब्रेड को जैसे अन्य रोटियों के साथ-साथ उपयोग किया जा सकता है.

इससे सैंडविच, टोस्ट, और अन्य पकवान बनाया जा सकता है। इसे अकेले या किसी भी व्यंजन के साथ परोसा जा सकता है. ब्राउन ब्रेड एक स्वास्थ्यप्रद और स्वादिष्ट विकल्प है जो लोगों को सेहतमंद और संतुलित आहार का अनुभव करने में मदद करता है. इसका नियमित सेवन करने से लोग अपने आहार में फाइबर की मात्रा बढ़ा सकते हैं और स्वस्थ रह सकते हैं.

.



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *