कैंसर का उपचार: कैंसर अनियंत्रित कोशिकाओं का नाम है। अनियंत्रित से अनियंत्रित कैंसर होता है। हालांकि, किंकी होने का कारण भी अनिंयत्रत से एल्स माना जाता है। कैंसर की सबसे खराब वजह यही है कि प्राथमिक चरण में होने की जानकारी नहीं होती है और जब जानकारी होती है, तब तक काफी देर हो चुकी होती है। आज हम आपको ऐसे ही कैंसर के बारे में बता रहे हैं। कोलन कैंसर से बचाव के लिए लक्षणों पर ध्यान देने की जरूरत है।

कैंसर होने के इन कारणों को जानिए

डॉक्टरों का कहना है कि कोलन कैंसर के वैसे कोई भी वर्कर जाने वाले फैक्टर नहीं है। लेकिन कुछ ऐसे हैं, जिससे पेट के कैंसर होने का खतरा बहुत अधिक बढ़ जाता है। इन कारणों को जानने की जरूरत है।

1. अधिक खाने से पेट का कैंसर हो सकता है।
2. अधिक घबराहट से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।
3. अधिक नमकीन खाने वालों को कैंसर का खतरा अधिक देखा गया है।
4. खराब लाइफ स्टाइल, शराब का सेवन, खराब भोजन से भी कैंसर होने का खतरा रहता है
5. पेट में लगातार इंफेक्शन बना रहता है तो इससे भी कैंसर की शुरुआत हो सकती है

समाचार रीलों

पेट के कैंसर को सामान्य गैस मत समझिए

डॉक्टर्स का कहना है कि कोलन कैंसर और गैस्ट्रिक प्रॉब्लम होना दोनों अलग-अलग हैं। कई बार लक्षण एक जैसे उभर कर सामने आते हैं। पेट में जब कैंसर अचेतन रूप से सम्‍मिलित होता है और पेट में तेजी से बढ़ता जा रहा है। इसे गैस्ट्रिक कैंसर भी कहा जाता है। जबकि गैस की समस्या में पेट का एसिड मुंह में आना, पेट में जलन होना, गैस बनना आदि शामिल होते हैं। यह स्थिति जानलेवा नहीं हो सकती है। जबकि पेट का कैंसर मैटा स्टेटिस अवस्था में पागल हो जाता है।

कैंसर के ये हैं इलाज

पेट के कैंसर का इलाज उसकी स्टेज की नींव रखी जाती है। दवाओं का डोज भी उसी के आधार पर तय होता है। इलाज में रेडिकल सर्जरी, कीमोथेरपी, रेडियोथेरेपी, वैज्ञानिक चिकित्सा शामिल हैं। डॉक्टरों का कहना है कि यदि मरीज का तेजी से वजन गिर रहा है, पेट में सूजन और दवा खाने के बाद भी उल्टी हो रही है। साक्षरता स्तर गिर रहा है तो यह कैंसर का संकेत हो सकता है। इसके लिए तुरंत डॉक्टर से परामर्श कर उपचार की आवश्यकता है।

ये भी पढ़ें: फिल्म इंडस्ट्री: फिल्म इंडस्ट्री में काम करने का है सपना, ये पांच कोर्स करेंगे सीधी एंट्री और लाखों की सैलरी

नीचे स्वास्थ्य उपकरण देखें-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

.



Supply hyperlink

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *