Photograph:FILE पेटीएम

संकट में घिरी फिनटेक कंपनी पेटीएम ने अपने ई-कॉमर्स कारोबार को लेकर बड़ा फैसला किया है। कंपनी ने अपने ई-कॉमर्स कारोबार का नाम बदलकर पाई प्लेटफॉर्म्स कर लिया है। साथ ही ऑनलाइन खुदरा कारोबार में हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए बिट्सिला का अधिग्रहण किया है। बिट्सिला ओएनडीसी पर एक सेलर्स प्लेटफॉर्म है। 

कंपनी ने तीन महीने पहले किया था आवेदन

समाचार एजेंसी पीटीआई ने सूत्रों के हवाले से बताया कि कंपनी ने करीब तीन महीने पहले नाम बदलने के लिए आवेदन किया था। आठ फरवरी को उसे कंपनी रजिस्ट्रार से इसकी मंजूरी मिल गई। कंपनी रजिस्ट्रार की आठ फरवरी की अधिसूचना में कहा गया कि इस प्रमाणपत्र की तारीख से कंपनी का नाम पेटीएम ई-कॉमर्स प्राइवेट लिमिटेड से बदलकर पाई प्लेटफॉर्म्स प्राइवेट लिमिटेड कर दिया गया है। 

एलिवेशन कैपिटल पेटीएम ई-कॉमर्स में सबसे बड़ा शेयरधारक है। इसे पेटीएम के संस्थापक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) विजय शेखर शर्मा, सॉफ्टबैंक और ईबे का भी समर्थन प्राप्त है। सूत्रों ने बताया कि कंपनी ने अब इनोबिट्स सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड (बिट्सिला) का अधिग्रहण कर लिया है। इसे 2020 में पेश किया गया था। यह ‘फुल-स्टैक ओमनीचैनल’ और ‘हाइपरलोकल कॉमर्स’ क्षमता के साथ ओएनडीसी सेलर्स प्लेटफॉर्म के रूप में काम करता है। ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स (ओएनडीसी) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की एक पहल है। इसका मकसद छोटे खुदरा विक्रेताओं को डिजिटल कॉमर्स का फायदा उठाने में मदद करने के वास्ते एक सुविधाजनक मॉडल तैयार करना है। 

पेटीएम के शेयर में गिरावट 

आरबीआई का एक्शन के बाद पेटीएम के शेयर में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। शुक्रवार के कारोबारी सत्र दोपहर 2 बजे में कंपनी के शेयर में 6.22 प्रतिशत की गिरावट हुई है। पिछले एक महीने में कंपनी का शेयर 38.89 प्रतिशत गिर चुका है। 

Newest Enterprise Information





Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *