[ad_1]

Boeing CEO: संकट में फंसी दुनिया की दिग्गज विमान निर्माता कंपनी बोइंग ने आखिरकार कड़ा फैसला लेते हुए अपने सीईओ डेव केलहुन (Dave Calhoun) समेत टॉप मैनेजमेंट को बाहर का रास्ता दिखा दिया है. डेव केलहुन इस साल के आखिर तक कंपनी छोड़ देंगे. इसके अलावा कॉमर्शियल एयरलाइन्स डिवीजन के हेड रिटायर हो जाएंगे और चेयरमैन दोबारा से अपना पद नहीं संभालेंगे. पिछले कुछ समय में बोइंग के विमानों के साथ ऐसे गंभीर हादसे हुए कि कंपनी को आखिरकार टॉप मैनेजमेंट पर गाज गिरानी पड़ी. 

टेक ऑफ के बाद फट गया था विमान का दरवाजा

हाल ही में बोइंग 737 मैक्स विमान का दरवाजा टेक ऑफ के थोड़ी देर बाद ही हवा में फट गया था. हालांकि, चालक दल की सूझबूझ से हादसा टल गया था और किसी को गंभीर चोट नहीं आई थी. डेव केलहुन ने सीईओ का पद 2020 में संभाला था. उनसे पहले सीईओ रहे डेनिस मुलेनबर्ग (Dennis Muilenburg) को भी ऐसे ही स्कैंडल में फंसकर अपना पद गंवाना पड़ा था. उस समय 2 नए 737 मैक्स 5 महीनों के अंतराल में एक जैसे हादसे का शिकार हुए थे. इसमें 346 यात्रियों और चालक दल के सदस्यों की मृत्यु हो गई थी. इसके बाद डेनिस मुलेनबर्ग ने इस्तीफा दे दिया था. 

दुर्घटना के बाद रोक दिए गए थे सभी 737 मैक्स

डेव केलहुन ने सीईओ का पद संभालते हुए कहा था कि उनकी पहली प्राथमिकता सुरक्षा उपायों को मजबूत करना रहेगी. मगर, कुछ दिनों पहले हुए हादसे से बोइंग पर सवालिया निशान खड़े हो गए थे. कंपनी ने सभी 737 मैक्स को अगले आदेश तक उड़ान भरने की रोक लगा दी थी. इसके अलावा सभी विमानों की सुरक्षा जांच का आदेश भी दिया गया था. अमेरिकी सरकार ने भी बोइंग के खिलाफ जांच शुरू की थी. इस ताजा दुर्घटना ने कंपनी के सुरक्षा प्रोटोकॉल एवं सेफ्टी कंट्रोल पर सवाल खड़े कर दिए हैं.

ये भी पढ़ें 

World Largest Airport: इस विशालकाय एयरपोर्ट में समा जाएगी पूरी मुंबई, नहीं दिखता दूसरा कोना 

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *