Picture:FILE आईपीओ मार्केट

बुधवार को तीन आईपीओ मार्केट में लॉन्च हुए। जन स्मॉल फाइनेंस बैंक, राशि पेरिफेरल्स और कैपिटल स्मॉल फाइनेंस बैंक का आईपीओ। जन स्मॉल फाइनेंस बैंक के आईपीओ को इश्यू के पहले दिन बुधवार को 88 प्रतिशत सब्सक्रिप्शन मिल गया है। एनएसई पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, निजी इक्विटी कंपनियों- टीपीजी और मॉर्गन स्टेनले समर्थित बैंक के आईपीओ में 1,01,16,284 शेयरों की पेशकश की गई है। पहले दिन 89,11,404 शेयरों के लिए बोलियां लगाई गईं। खुदरा व्यक्तिगत निवेशकों की कैटेगरी को 1.19 गुना सब्सक्रिप्शन मिला। जबकि गैर-संस्थागत निवेशकों की कैटेगरी को 1.22 गुना सब्सक्रिप्शन मिला।

इसके अलावा पात्र संस्थागत खरीदारों के लिए रिजर्व कैटेगरी को 14 प्रतिशत सब्सक्रिप्शन मिला है। इस आईपीओ के तहत 462 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए गए हैं। इसमें 26,08,629 इक्विटी शेयरों की बिक्री पेशकश (OFS) भी की जाएगी। इसके लिए 393-414 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया है। जन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने मंगलवार को एंकर (बड़े) निवेशकों से 167 करोड़ रुपये जुटाए थे।

पूरा भरा राशि पेरिफेरल्स का आईपीओ

सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी उत्पाद वितरक कंपनी राशि पेरिफेरल्स के आईपीओ को इश्यू के पहले दिन बुधवार को पूरा सब्सक्रिप्शन मिल गया। एनएसई पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, इश्यू के तहत 1,42,37,289 शेयरों की पेशकश की गई है। पहले दिन 1,54,17,936 शेयरों के लिए बोलियां लगाई गईं। खुदरा व्यक्तिगत निवेशकों के सेगमेंट को 1.36 गुना सब्सक्रिप्शन मिला जबकि गैर-संस्थागत निवेशकों की कैटेगरी को 1.87 गुना सब्सक्रिप्शन मिला। इसके अलावा पात्र संस्थागत खरीदारों के लिए आरक्षित कैटेगरी को एक प्रतिशत सब्सक्रिप्शन मिला है। आईपीओ के तहत 600 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए गए हैं। इसमें कोई बिक्री पेशकश शामिल नहीं है। इसके लिए 295-311 रुपये प्रति शेयर का प्राइस बैंड तय किया गया है। राशि पेरिफेरल्स ने मंगलवार को एंकर (बड़े) निवेशकों से 180 करोड़ रुपये जुटाए थे।

50% सब्सक्राइब हुआ कैपिटल SFB का IPO

कैपिटल स्मॉल फाइनेंस बैंक के आईपीओ को इश्यू के पहले दिन बुधवार को 50 फीसदी सब्सक्रिप्शन मिल गया है। एनएसई पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, 523 करोड़ रुपये के इश्यू के तहत 81,47,373 शेयरों की पेशकश की गई है। पहले दिन 40,77,696 शेयरों के लिए बोलियां लगाई गईं। खुदरा व्यक्तिगत निवेशकों की कैटेगरी को 67 फीसदी सब्सक्रिप्शन मिला, जबकि गैर-संस्थागत निवेशकों की कैटेगरी को 38 प्रतिशत सब्सक्रिप्शन मिला। इसके अलावा पात्र संस्थागत खरीदारों के लिए आरक्षित कैटेगरी को 29 प्रतिशत सब्सक्रिप्शन मिला है।

Newest Enterprise Information





Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *