[ad_1]

Rupee towards Greenback: डॉलर के मुकाबले रुपये की कीमत में शुक्रवार को बड़ी गिरावट आई. इसने एतिहासिक गिरावट के बाद अपने ऑल टाइम लो को टच कर लिया. अमेरिकी करेंसी डॉलर के मुकाबले रुपया 35 पैसे लुढ़ककर 83.48 रुपये पर बंद हुआ. इससे पहले रुपये का निम्नतम स्तर 83.40 रहा था, जो कि उसने 13 दिसंबर, 2023 को छुआ था. शुक्रवार सुबह भारतीय करेंसी डॉलर के मुकाबले 83.28 रुपये के स्तर पर खुली थी. शाम तक इसमें और गिरावट आ गई. डॉलर अन्य विदेशी मुद्राओं यूरो और पाउंड के मुकाबले भी मजबूत हुआ है.

इंट्रा डे ट्रेड में डॉलर के मुकाबले 83.52 के स्तर तक गिरा रुपया 

स्विस नेशनल बैंक (SNB) द्वारा ब्याज दरों में अप्रत्याशित कटौती का असर रुपये की कीमत पर भी पड़ा. एसएनबी ने ब्याज दरें 25 बेसिस प्वॉइंट घटाकर 1.5 फीसदी कर दी हैं. इसके बाद उम्मीद बढ़ गई है कि यूरोपियन सेंट्रल बैंक (ECB) भी जून, 2024 में ब्याज दरों को घटा सकता है. शुक्रवार को एशिया की अन्य मुद्राओं में भी गिरावट दर्ज की गई. इसके चलते डॉलर के मुकाबले रुपया 35 पैसे लुढ़क गया. इंट्रा डे ट्रेड में यह गिरकर डॉलर के मुकाबले 83.52 के स्तर पर भी चला गया था. 

यूरो और पाउंड में कमजोरी के चलते डॉलर में आई मजबूती

शेयरखान बाय बीएनपी पारिबा के रिसर्च एनालिस्ट अनुज चौधरी के मुताबिक, यूरो और पाउंड में कमजोरी के चलते अमेरिकी डॉलर में मजबूती आई है. बैंक ऑफ इंग्लैंड द्वारा ब्याज दरों में बदलाव न करने के चलते पाउंड में गिरावट आई है. अमेरिका के मजबूत आर्थिक आंकड़ों से भी डॉलर को मजबूत होने में मदद मिली.

डॉलर इंडेक्स में आया उछाल, ऑयल बेंचमार्क भी बढ़ा 

दुनिया की 6 सबसे बड़ी करेंसी के मुकाबले अमेरिकी करेंसी की मजबूती बताने वाला डॉलर इंडेक्स 0.31 फीसदी बढ़त के साथ शुक्रवार को 104.32 पर पहुंच गया. ग्लोबल ऑयल बेंचमार्क भी यह 0.05 फीसदी बढ़कर 85.74 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया है. अनुज चौधरी के अनुसार, फिलहाल यह सभी परिस्थितियां रुपये की कमजोरी की ओर इशारा कर रही हैं. यदि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया डॉलर की बिक्री करता है तो रुपये को संभलने में मदद मिल सकती है.

सोना और चांदी के रेट भी लुढ़के 

शुक्रवार को बीएसई का सेंसेक्स 190.75 अंक या 0.26 फीसदी बढ़कर 72,831.94 प्वॉइंट पर बंद हुआ. इसके अलावा एनएसई का निफ्टी 84.80 अंक या 0.39 फीसदी बढ़कर 22,096.75 प्वॉइंट पर पहुंच गया. स्टॉक एक्सचेंज के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशक (FII) ने गुरुवार को 1,826.97 करोड़ रुपये के शेयर बेचे. इस बीच शुक्रवार को सोने की कीमत 875 रुपये प्रति तोला गिरकर 66575 रुपये रह गई और चांदी के रेट भी 760 रुपये कम होकर 76990 रुपये प्रति किलो पर आ गए हैं.

ये भी पढ़ें 

Railways Vacation spot Alert: भारतीय रेलवे ने दी एक और सुविधा, रात के सफर में बहुत काम आएगी

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *