Direct Tax Assortment: वित्त वर्ष 2023-24 के पहले आठ महीनों में डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन (Direct Tax Assortment) में 23.4 फीसदी का उछाल देखने को मिला है. अप्रैल से नवंबर 2023 की अवधि के दौरान कुल डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 10.64 लाख करोड़ रुपये रहा है. 

वित्त मंत्रालय ने डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन का डेटा जारी करते हुए बताया कि चालू वित्त वर्ष के पहले आठ महीनों में डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन बजट अनुमान का 58.34 फीसदी या 10.64 लाख करोड़ रुपये आ चुका है जो पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 23.4 फीसदी ज्यादा है. 

डेटा के मुताबिक रिफंड जारी करने से पहले अप्रैल से नवंबर के दौरान  ग्रॉस कलेक्शन 17.7 फीसदी के उछाल के साथ 12.67 लाख करोड़ रुपये रहा है. अप्रैल से नवंबर के दौरान कुल 2.03 लाख करोड़ रुपये का रिफंड जारी किया जा चुका है. मंत्रालय ने बताया कि जिन मामलों में शुरुआती दौर में रिफंड देने में विफलता हासिल हुई है उन्हें रिफंड जारी करने के लिए विशेष पहल की गई है और वैध बैंक खातों में रिफंड जारी किया गया है. 

चालू वित्त वर्ष 2023 – 24 में सरकार ने पर्सनल इनकम टैक्स, और कॉरपोरेट टैक्स को मिलाकर 18.23 लाख करोड़ रुपये टैक्स कलेक्शन का लक्ष्य रखा है. जबकि  15.38 लाख करोड़ रुपये अप्रत्यक्ष कर (जीएसटी, सीमा शुल्क, उत्पाद शुल्क) कलेक्शन रहने का अनुमान है. डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में कॉरपोरेट इनकम टैक्स में 7.13 फीसदी का उछाल देखने को मिला है. जबकि पर्सनल इनकम टैक्स में 28.29 फीसदी का उछाल रहा है. अगर सिक्योरिटी ट्रांजैक्शन टैक्स को इसमें जोड़ दें तो कुल पर्सनल इनकम टैक्स कलेक्शन में 27.98 फीसदी का उछाल रहा है. हाल ही में सरकार ने बताया कि इनकम टैक्स का भुगतान करने वालों की संख्या 10 करोड़ के पार जा पहुंची है. वित्त वर्ष 2022-23 में कुल 10.09 पैन कार्ड धारक ने इनकम टैक्स का भुगतान किया है. हालांकि एसेसटमेंट ईयर 2023-24 के लिए 2 दिसंबर 2023 तक कुल 7.76 करोड़ टैक्सपेयर्स ने आयकर रिटर्न दाखिल है.

इससे पहले वित्त मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा सरकार 33.61 लाख करोड़ रुपये के टैक्स कलेक्शन के अपने टारगेट पर कायम है. उन्होंने कहा कि डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 20 फीसदी और इनडायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 5 फीसदी की तेजी के साथ बढ़ रहा है. 

ये भी पढ़ें 

IT Shares: फेड रिजर्व के 2024 में ब्याज दरें घटाने के संकेत ने भरा आईटी स्टॉक्स में जोश, निफ्टी IT इंडेक्स में 1100 अंकों की उछाल



Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *